Monday, July 22

चीन में कोरोना रिटर्न्स से फिर दहशत, फ्लाइट्स कैंसिल, स्कूल बंद और घरों में कैद हुए लोग

चीन में कोरोना रिटर्न्स से फिर दहशत, फ्लाइट्स कैंसिल, स्कूल बंद और घरों में कैद हुए लोग


 बीजिंग 
पूरी दुनिया में कोरोना वायरस फैलाने वाले चीन में एक बार फिर कोरोना वायरस पैर पसारता दिखाई दे रहा है। यहां कोरोना के बढ़ते मामले दर्ज किए जा रहे हैं। जिन्हें देखते हुए सरकार ने सख्ते में आ गई है और कई कड़े कदम उठाने शुरू कर दिए हैं। चीन में सरकार ने कोरोना के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए सैकड़ों फ्लाइट रद्द कर दी हैं। प्रभावित इलाकों में स्कूल बंद कर दिए हैं और कुछ जगहों पर लॉकडाउन भी लगा दिया है। सरकार ने लोगों से जरूरी होने पर ही बाहर निकलने को कहा है। इसके अलावा वायरल से लड़ने के लिए सरकार ने बड़े स्तर पर टेस्टिंग शुरू कर दी है।

चीन ने हमेशा वायरस को लेकर सतर्कता बरती और जीरो नीति का पालन किया है। अपनी सीमाओं पर सख्ती बरती और लॉकडाउन का भी सख्ती के साथ पालन किया। उस समय जब दूसरे देश कोरोना प्रतिबंधों में ढील दे रहे हैं तब चीन में कड़ाई के साथ कोरोना प्रतिबंधों का पालन किया जा रहा था। लेकिन इन सब के बावजूद एक बार चीन में कोरोना के नए मामले देखे जा रहे हैं।

चीन में घरेलू स्तर पर अब तक कोरोना वायरस को नियंत्रित करके रखा गया लेकिन लगातार पांचवे दिन  कोरोना के नए मामले देख देश की चिंता बढ़ गई है। चीन में ये ज्यादातर मामले देश के उत्तरी और उत्तरी पश्चिमी प्रांत से सामने आए हैं। सरकार ने इन इलाकों प्रतिबंध कड़े कर दिए हैं। सामने आ रहे नए मामलों के लिए एक वृद्ध दंपति को जिम्मेदार बताया जा रहा है जो एक टूरिस्ट ग्रुप का हिस्सा था।
यह दंपति गांसू प्रांत के सियान और इन मंगोलिया में आया था। उनकी यात्रा के दौरान कई मामले दर्ज किए गए। बीजिंग समेत पांच प्रांतों में ऐसे संक्रमित लोग मिले हैं जो इस दंपति के सपर्क में आए थे।

बता दें कि कोरोना से निपटने के लिए चीन की सरकार ने बड़े स्तर पर टेस्ट करने शुरू कर दिए हैं और टूरिस्ट जगहों को भी बंद कर दिया है। इसके अलावा उन जगहों के स्कूलों और मनरंजन स्थलों को बंद कर दिया गया है, जहां वायरस का प्रभाव ज्यादा देखने को मिला है। कई इलाकों के नागरिकों को सलाह दी गई है कि जरूरी होने पर ही घर बाहर निकला जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *