Tuesday, November 29

यूजी-पीजी में रहेंगी 6,16,412 सीटें सूनी, 52 फीसदी ही हो सके प्रवेश

यूजी-पीजी में रहेंगी 6,16,412 सीटें सूनी, 52 फीसदी ही हो सके प्रवेश


भोपाल
सूबे के 1301 कालेजों की यूजी-पीजी की दो राउंड की काउंसलिंग और दो सीएलसी के बाद उच्च शिक्षा विभाग छह लाख 48 हजार 500 विद्यार्थियों को प्रवेश दे सका है। जबकि 6,16,412 सीटें रिक्त रह गई हैं, जो पूरे साल खाली रहेंगी। हालांकि गत वर्ष की अपेक्षा विभाग ने 85 हजार 500 प्रवेश ज्यादा कर लिये हैं।

उच्च शिक्षा विभाग के सभी प्रयासों के बाद भी प्रदेश के 1301 कालेजों में यूजी-पीजी की करीब छह लाख 16 हजार 412 सीटें रिक्त रहेंगी। क्योंकि विभाग ने अपनी प्रवेश देने की प्रक्रिया पर पूर्ण विराम लगा दिया है। अब विभाग आठ से बीस नवंबर तक सिर्फ प्रथम वर्ष में प्रवेशित विद्यार्थियों के विषयों में परिवर्तन कराएगा। वर्तमान में विभाग की सवा 12 लाख सीटों में से करीब 6,48,500 सीटों पर विद्यार्थियों ने प्रवेश लिये हैं। यूजी में कुल 4,90,300 और पीजी में कुल 1,58,200 विद्यार्थी प्रवेशरत हैं।

गत वर्ष से बढे 70 हजार प्रवेश
विभाग ने गत वर्ष की अपेक्षा विभाग में करीब 85 हजार 500 ज्यादा प्रवेश करा लिये हैं। गत वर्ष विभाग ने यूजी-पीजी में करीब पांच लाख 63 हजार प्रवेश कराए थे। बीस अक्टूबर से शुरू हुई विशेष काउंसलिंग में यूजी-पीजी में करीब 17 हजार विद्यार्थियों ने प्रवेश लिया हैं। बडी संख्या में विद्यार्थी पंजीकृत और सत्यापित होने के कारण मंत्री यादव ने अतिरिक्त राउंड की चलाया था, लेकिन ज्यादा विद्यार्थी प्रवेश लेने आगे नहीं आये हैं।

प्रवेश के अब के आंकडे
कॉलेजों की संख्या 1301
कुल सीटें 12,64,912
कुल रिक्त सीटें 6,16,412
पीजी सीटें2,34,279
पीजी में प्रवेश 1,58,200
रिक्त सीटें 76,079
यूजी सीट 10,30,633
यूजी में प्रवेश 4,90,300
रिक्त सीटें 5,40,333

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.