Saturday, February 4

रूस ने यूक्रेन पर किया हमला तो मॉस्को पर कड़े प्रतिबंध लगाएगा ऑस्ट्रेलिया

रूस ने यूक्रेन पर किया हमला तो मॉस्को पर कड़े प्रतिबंध लगाएगा ऑस्ट्रेलिया


एडिलेड
ऑस्ट्रेलिया में लेबर पार्टी की सीनेटर किंबर्ले किचिंग ने गुरूवार को कहा कि रूस और यूक्रेन के बीच लगातार बढ़ते तनाव के बीच आस्ट्रेलिया रूस के खिलाफ अतिरक्ति प्रतिबंध लगा सकता है। किचिंग ने ऑस्ट्रेलिया में  स्काई न्यूज के लाइव प्रसारण में कहा कि मंत्रिमंडल की राष्ट्रीय सुरक्षा समिति को कुछ खुफिया जानकारी मिल रहीं हैं और जिसके चलते वह रूस के खिलाफ प्रतिबंध लगा सकते हैं जैसा कि विदेश मंत्री ने ही कुछ दिन पहले ही कहा था कि  ऐसा कुछ है जिसपर हम विचार कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि अगर रुस यूक्रेन पर हमला करता है तो  तो ऑस्ट्रेलिया उसके खिलाफ मैग्नेटस्की कानून का प्रयोग कर सकता है।

क्या है मैग्नेटस्की कानून?
यह कानून यूं तो अमेरिका ने बनाया था ताकि वह मानवाधिकारों के उल्लंघनकर्ताओं और भ्रष्ट अधिकारियों की बाहरी मुल्कों में संपत्ति को फ्रीज कर सकें और अमेरिका में प्रवेश पर भी रोक लगा सके। किचिंग ने कहा कि रूस के खिलाफ तथाकथित मैग्न्स्किकी प्रतिबंध लगाये जा सकते हैं। मुझे लगता है कि ऑस्ट्रेलिया समान विचारधारा वाले देशों के साथ काम करने के लिए तत्पर है, हम पांच देशों में चौथे हैं जिनेक पास मैग्न्स्किकी कानून है।

यूक्रेन बॉर्डर पर बढ़ा तनाव
उल्लेखनीय है कि इस सप्ताह अमेरिका और उसके सहयोगियों द्वारा यूक्रेन से अपने राजनयिकों को वापस बुला लेने और रूस की सीमा से लगती यूक्रेन की सीमा पर सैनिकों की तैनाती बढ़ा देने से तनाव काफी बढ गया यूरोपीय परिषद ने सोमवार को घोषणा की कि यूक्रेन पर सैन्य आक्रमण की स्थिति में मास्को को इसके गंभीर  परिणामों का सामना करना पड़ सकता है। दूसरी ओर रुस ने यूकेंन पर हमला करने वाले दावों को  खारिज कर दिया है और कहा है कि रुस का यूक्रेन पर हमला करने का कोई इरादा नहीं है। रुस ने कहा कि पूर्वी यूरोप में नाटो ने सैन्य गतिविधियां बढ़ा दी है ऐसे में  अपने क्षेत्र में सेना को स्थानांतरित करने का उसे पूरा अधिकार है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.