Wednesday, December 7

बटलर का तूफानी शतक, विजयी ‘चौका’ लगाकर इंग्लैंड शान से सेमी में 

बटलर का तूफानी शतक, विजयी ‘चौका’ लगाकर इंग्लैंड शान से सेमी में 


शारजाह
जोस बटलर (नाबाद 101) के शानदार शतक के बाद गेंदबाजों की सधी हुई गेंदबाजी के दम पर इंग्लैंड ने सोमवार को श्रीलंका को 26 रनों से शिकस्त देकर आईसीसी टी-20 वर्ल्ड कप 2021 के ग्रुप-1 में अपनी लगातार चौथी जीत दर्ज की और शान से सेमीफाइनल में एंट्री कर ली। ग्रुप-1 में इंग्लैंड की यह लगातार चौथी जीत है और अब उसके आठ अंक हो गए हैं और वो सेमीफाइनल में पहुंचने वाली पहली टीम बन गई है। शारजाह क्रिकेट स्टेडियम में टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी इंग्लैंड ने चार विकेट पर 163 रन का मजबूत स्कोर बनाया और फिर श्रीलंका को 19 ओवर में 137 रन पर ऑलआउट कर दिया। इस हार के बाद श्रीलंका टूर्नामेंट से बाहर हो गई है।  

इंग्लैंड से मिले 163 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी श्रीलंका ने पावरप्ले में ही 40 रन तक टॉप ऑर्डर के अपने तीन विकेट गंवा दिए। इनमें पथुम निसंका (1), कुसल परेरा (7) और चरिथ असलंका (21) के विकेट शामिल थे। इन तीन विकेटों में एक रन आउट रहा जबकि दो विकेट आदिल राशिद के खाते में आए। श्रीलंका को चौथा झटका अविष्का फर्नांडो (13) के रूप में लगा। उन्हें क्रिस जॉर्डन ने पवेलियन भेजा। 10 ओवर तक श्रीलंकाई टीम ने चार विकेट पर 66 रन बना लिए थे। इसके बाद टीम को जीत के लिए 24 गेंदों पर 41 रनों की जरूरत थी और उसके पांच विकेट शेष थे। कप्तान दासुन शनाका (26) और वानिंदु हसरंगा (34) ने छठे विकेट के लिए 53 रनों की साझेदारी जरूर की। लेकिन वे टीम को जीत तक नहीं पहुंचा सके।  शनाका ने 25 गेंदों पर दो चौके और एक छक्का जबकि हसरंगा ने 21 गेंदों पर तीन चौके और एक छक्का लगाया। भानुका राजापक्षे ने 26 रन बनाए। इंग्लैंड की ओर से मोईन अली, आदिल रशीद और क्रिस वोक्स ने दो-दो जबकि लियाम लिविंगस्टन और क्रिस वोक्स ने एक-एक विकेट चटकाए। 

इससे पहले, इंग्लैंड ने जोस बटलर के नाबाद शतक की मदद से चार विकेट पर 163 रन का मजबूत स्कोर बनाया। बटलर ने 67 गेंदों पर 6 चौके और 6 छक्कों की मदद से नाबाद 101 रनों की शानदार शतकीय पारी खेली। टी-20 वर्ल्ड कप 2021 में किसी भी बल्लेबाज का यह पहला शतक है। बटलर ने 20वें ओवर में अंतिम गेंद पर लेग साइड में छक्का लगाकर टी20 इंटरनेशनल क्रिकेट में अपना पहला शतक पूरा किया। उनके अलावा कप्तान इयोन मोर्गन ने फॉर्म में लौटते हुए 40 रनों की पारी खेली। मोर्गन ने 36 गेंदों पर एक चौका और तीन छक्के लगाए।  बटलर और मोर्गन के बीच चौथे विकेट के लिए 112 रनों की शानदार शतकीय साझेदारी हुई, जिसकी बदौलत टीम एक मजबूत स्कोर तक पहुंचने में सफल रही। बटलर का इससे पहले टी20 इंटरनेशनल क्रिकेट में सर्वोच्च स्कोर भारत के खिलाफ था। उन्होंने इसी साल भारत के खिलाफ नाबाद 83 रनों की पारी खेली थी। उनके अलावा जेसन रॉय ने नौ और डेविड मलान ने छह रन बनाए जबकि जॉनी बेयरस्टो खाता खोले बिना आउट हुए।

श्रीलंका की ओर से वानिंदु हसरंगा सबसे सफल गेंदबाज रहे। उन्होंने चार ओवर में 21 रन देकर तीन खिलाड़ियों को आउट किया। मुकाबले में दो विकेट झटकने के साथ ही हसरंगा ने एक कैलेंडर ईयर में सर्वाधिक विकेट लेने का रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया। उन्होंने वनडे डेब्यू में और इस टी 20 विश्व कप में भी हैट्रिक ली थी। हसरंगा ने इंग्लैंड के बल्लेबाज जेसन रॉय और जॉनी बेयरस्टो को आउट करके पवेलियन भेजा और एक कैलेंडर ईयर में सर्वाधिक विकेट लेने का रिकॉर्ड अपने नाम किया। इससे पहले एक कैलेंडर ईयर में सर्वाधिक विकेट लेने का रिकॉर्ड दक्षिण अफ्रीका तबरेज शम्सी के नाम था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.