Monday, July 22

बोराई नदी पर पुल बनने से 12 ग्राम के 11 हजार 409 लोगों को मिली बारहमासी आवागमन की सुविधा

बोराई नदी पर पुल बनने से 12 ग्राम के 11 हजार 409 लोगों को मिली बारहमासी आवागमन की सुविधा


जांजगीर-चांपा

 

सामाजिक, आर्थिक, शैक्षणिक विकास के लिए, सड़क संपर्क की भूमिका महत्वपूर्ण होती है। व्यापारियों के आवागमन, शैक्षणिक संस्थाओं तक विद्यार्थियों को पहुंचने के लिए सरल, सुविधाजनक मार्ग जीवन में उन्नति का प्रशस्त करता है। जैजैपुर तहसील के ग्राम करौवाडीह के पास बोराई नदी पर 684.79 लाख रूपए की लागत से 146 मीटर लंबा व 8.4 मीटर चौड़ाई का पुल बनाया गया है। इस पुल के बन जाने से 12 ग्रामों के करीब 11 हजार से अधिक लोगों को आवागमन की बारहमासी सुविधा मिल रही है। यह पुल इस क्षेत्र के आर्थिक और सामाजिक विकास का आधार साबित हो रहा है।

करौवाडीह के मोहन लाल ने बताया कि बरसात के दिनों में या रात के समय नदी पार करना संभव नहीं होता था। जरूरी काम होने पर  बहुत परेशानी होती थी।  उन्होंने राज्य सरकार को धन्यवाद देते हुए कहा कि बोराई नदी पर पुल  बनने से आवागमन की सुविधा का विस्तार हो गया है। इससे समय और पैसे की भी बचत भी हो रही है। यह पुल इस क्षेत्र के विकास में मील का पत्थर साबित हो रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *