Saturday, November 26

गोवर्धन पूजा का आशय प्रकृति की पूजा करने का सन्देश: मुख्यमंत्री शिवराज

गोवर्धन पूजा का आशय प्रकृति की पूजा करने का सन्देश: मुख्यमंत्री शिवराज


उज्जैन। मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने प्रदेश अध्यक्ष श्री वी.डी.शर्मा के साथ उज्जैन आकर भगवान श्री महाकालेश्वर मंदिर में पूजन-अर्चन करने के बाद महाकाल महाराज मंदिर परिसर योजना स्थल पर पांच दिवसीय दीपोत्सव के तीसरे दिन गोवर्धन पूजा और गौमाता की पूजा अर्चना की। तत्पश्चात मुख्यमंत्री श्री चौहान ने त्रिवेणी संग्रहालय के समीप रुद्राक्ष का पौधा लगाया। इस अवसर पर अंकूर अभियान के तहत कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि गोवर्धन पूजा का आशय प्रकृति का पूजा करने का सन्देश है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रदेशवासियों से आव्हान किया कि पर्यावरण को बचाने के लिए आम जन अधिक से अधिक अपने शुभ कार्यों के समय पौधा रोपण जरुर करें। पेड़ लगाना एवं पेड़ बचाना जरुरी है तभी हम पर्यावरण को बचा पायेंगे।

मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने पर्यावरण के पवित्र कार्य में लगे अंकुर अभियान के समस्त सदस्यों को साधुवाद देते हुए दीपावली पर्व की हार्दिक शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि उज्जैन में श्री महाकाल मंदिर के आसपास स्मार्ट सिटी के द्वारा किए जा रहे निर्माण कार्य सराहनीय हैं। निर्माण पूर्ण होने पर आने वाले श्रद्धालुओं को  उज्जैन नगरी सुन्दर एवं आकर्षक लगेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि राष्ट्रीय पुनर्जागरण के महाभियान में हमारा देश और अधिक शक्तिशाली बनेगा। देश के प्रधान मंत्री श्री नरेद्र मोदी के नेतृत्व में एक वैभवशाली भारत का निर्माण होगा। भगवान श्री कृष्ण ने पांच हजार साल से अधिक पहले ही प्रकृति की पूजा करने का सन्देश दिश था। गोवर्धन पूजा कोई कर्मकांड नहीं है बल्की पर्यावरण को बचाने का सन्देश है। धरती का तापमान धीरे-धीरे बढ़ रहा है और उसे रोकना अति आवश्यक है। इसके लिए हम सब मिलकर अपनी धरा पर अधिक से अधिक पेड़ लगाएं। सरकार ने अंकुर अभियान प्रारंभ किया है।

जनता अधिक से अधिक सौर ऊर्जा संयंत्र लगाएं, सरकार उनसे खरीदेगी बिजली
    मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने गोवर्धन पूजा के अवसर पर भूस्वामियों से आव्हान किया कि प्रकृति की रक्षा के लिए वे अधिक से अधिक सौर ऊर्जा संयंत्र लगाएं। उनसे उत्पन्न होने वाली बिजली सरकार खरीदेगी। प्रदेश में ऊर्जा के लिए काफी काम किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि उज्जैन संभाग के आगर मालवा, नीमच एवं शाजापुर जिले में सौर ऊर्जा के पावर प्लांट लगाए जायेंगे। अभी तक कोयले और पानी से ही बिजली का उत्पादन किया जा रहा है। परन्तु अब सूर्य से भी बिजली का उत्पादन किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने जनता से आव्हान भी किया कि वे जरुरी होने पर ही बिजली जलाएं। बिजली का अपव्यय न करें। बिजली की बचत करें।

    इस अवसर पर मुख्यमंत्रील श्री शिवराज सिंह चौहान के साथ प्रदेश अध्यक्ष श्री वी.डी.शर्मा, उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव, सांसद श्री अनिल फिरोजिया, विधायक उज्जैन उत्तर श्री पारसचन्द जैन, विधायक महिदपुर श्री बहादुरसिंह चौहान, श्री विवेक जोशी, श्री बहादुर सिंह बोरमुंडला, श्री इकबाल सिंह गांधी सहित अन्य पदाधिकारीगण तथा संभागायुक्त श्री संदीप यादव, आई.जी. श्री संतोष कुमार सिंह, कलेक्टर श्री आशीष सिंह, पुलिस अधीक्षक श्री सत्येन्द्रकुमार शुक्ल, नगर निगम आयुक्त श्री अंशुल गुप्ता, ए.डी.एम. श्री संतोष टैगोर सहित अन्य प्रशासनिक अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.