Wednesday, December 7

बीपीएल परिवारों को 7 करोड़ 24 लाख से अधिक चिकन प्रदाय

बीपीएल परिवारों को 7 करोड़ 24 लाख से अधिक चिकन प्रदाय


भोपाल

पशुपालन एवं डेयरी विकास मंत्री प्रेम सिंह पटेल ने बताया कि प्रदेश में अनुसूचित जाति-जनजाति, पिछड़ा और कमजोर वर्ग के हितग्राहियों को कुक्कुट-पालन में अतिरिक्त आय का साधन उपलब्ध कराया जा रहा है। केन्द्र शासन की ग्रामीण बैकयार्ड कुक्कुट विकास योजना में 30 अक्टूबर, 2021 तक 16 लाख 10 हजार 240 गरीबी रेखा के नीचे के परिवारों को 7 करोड़ 24 लाख 61 हजार मुर्गी के चूजे उपलब्ध कराये जा चुके हैं।

अनुसूचित-जनजाति उप-योजना में रायसेन, रीवा, बालाघाट, बैतूल, शहडोल, छिन्दवाड़ा और धार जिले की 800 अनुसूचित जनजाति की महिला हितग्राहियों को स्मॉल होल्डर बैकयार्ड पोल्ट्री (अण्डा उत्पादन इकाई) योजना में एक लाख 53 हजार 600 अण्डे वाली ग्रोवर पक्षी प्रदाय कर आजीविका का साधन उपलब्ध कराया गया है। अनुसूचित-जाति उप-योजना में अनुसूचित-जाति के 8 हजार बीपीएल परिवारों को 36 लाख रंगीन चूजे उपलब्ध कराये गये हैं।

विशेष पिछड़ी जनजाति समूह योजना में शिवपुरी तथा श्योपुर कला में सहरिया जनजाति के 770, छिन्दवाड़ा में बैगा के 500 और बालाघाट में भारिया जनजाति के कुल 1770 लोगों को 84 हजार 960 कड़कनाथ चूजे प्रदाय कर लाभान्वित किया गया है। राज्य की कड़कनाथ योजना में 25 हजार 500 हितग्राहियों को 10 लाख 21 हजार कड़कनाथ चूजे उपलब्ध कराये गये हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.