Friday, January 27

ग्वालियर में गहरी नींद में सो रहे परिवार पर छत गिरने से मां-बेटी की मौत

ग्वालियर में गहरी नींद में सो रहे परिवार पर छत गिरने से मां-बेटी की मौत


ग्वालियर
ग्वालियर के पुरानी छावनी में गहरी नींद में सो रहे एक परिवार पर वज्रपात हुआ। अचानक घर की छत गिर गई और निद्रामग्न मां-बेटी के उसके मलबे में दबने से सोते-सोते ही प्राण निकल गए। परिवार के दो सदस्यों को गंभीर चोटें आई हैं जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। ग्वालियर के पुरानी छावनी में आधी रात के बाद एक घर की अचानक छत गिर गई जिसके कारण 21 साल की युवती और उसकी मां की मौत हो गई। वहीं छोटी बहन और भाई गंभीर रूप से घायल हो गए। सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस पहुंची और उसके बाद बेटी और मां के शव को पीएम के लिए भिजवा दिया है।

यह है पूरा मामला
दरअसल जिले के पुरानी छावनी के कृष्णा नगर पहाड़ी में बीती रात लगभग 11 बजे पूरा परिवार खाना खाकर घर के आगे वाले कमरे में सो गए उसके बाद लगभग तीन बजे के आसपास कमरे की छत गिर गई और छत गिरने के कारण पूरा परिवार मलबे में दब गया। छत के मलबे में परिवार के दबने पर चीख-पुकार का शोर मचा। इससे आसपास के लोग मौके पर पहुंचे और मलबे में दबे लोगों को बाहर निकाला गया। इस मलबे में दबने के कारण 38 साल की उषा शाक्य और उसकी बेटी राधा (21 वर्ष ) की मौत हो गई। वहीं सूचना के बाद तुरंत पुलिस मौके पर पहुंच गई।और उसके बाद उन्होंने अपने वाहनों से घायलों को अस्पताल पहुंचाया,जहां घायल रिद्धिमा और आनंद का इलाज किया जा रहा है। बताया जा रहा है हादसे के वक्त घर के एक ही कमरे में 6 सदस्य सो रहे थे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.