Thursday, July 25

अभी कर ले अपना PUBG डाटा ट्रांसफर बादमे नहीं मिलेगा मौका

अभी कर ले अपना PUBG डाटा ट्रांसफर बादमे नहीं मिलेगा मौका


जल्द ही बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया (BGMI) PUBG मोबाइल से डाटा ट्रांसफर बंद कर देगा। शुक्रवार को गेम के पब्लिशर क्राफ्टन ने PUBG मोबाइल में लिविक (Livik ) मैप खेलने वाले प्लेयर्स के लिए डाटा ट्रांसफर पॉलिसी को लेकर बड़ा ऐलान किया। इसके मुताबिक, इस साल 31 दिसंबर के बाद डाटा ट्रांसफर को बंद कर दिया जाएगा।

बता दें कि लॉन्च के बाद से BGMI ने अपने यूजर्स को फेसबुक और ट्विटर के माध्यम से PUBG मोबाइल से अपना डाटा ट्रांसफर करने की अनुमति दी थी। यह देखते हुए कि प्लेयर PUBG मोबाइल के लिए समान सोशल मीडिया अकाउंट्स का उपयोग करते हैं। बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया ने पहले 5 नवंबर से फेसबुक अकाउंट से लॉग इन को डिसेबल कर दिया था।

क्राफ्टन का पोस्ट-

क्राफ्टन ने 2 दिसंबर को कंपनी की साइट पर एक पोस्ट के जरिए PUBG मोबाइल से बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया में डाटा ट्रांसफर को बंद करने की घोषणा की है। क्राफ्टन का कहना है कि उन खिलाड़ियों के लिए यह आसान गेमप्ले सुनिश्चित करने का तरीका है जिन्होंने पहले PUBG मोबाइल नॉर्मडिक मैप: लिविक ("Prior App") का उपयोग किया था। बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया ("न्यू ऐप") कुछ डाटा को पहले ऐप अकाउंट से नए ऐप में ट्रांसफर कर देगा। खिलाड़ियों के पास अपने PUBG मोबाइल डाटा को इंपोर्ट करने के लिए 31 दिसंबर तक का समय है।

सितंबर 2020 में PUBG मोबाइल और PUBG मोबाइल लाइट भारत में बैन-
आपको याद हो तो, भारत ने सितंबर 2020 में PUBG मोबाइल और PUBG मोबाइल लाइट पर प्रतिबंध लगा दिया था। इस साल जुलाई में इस गेम को बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया या BGMI के रूप में फिर से शुरू किया गया है। गेम ने खिलाड़ियों को अपनी प्रोग्रेस और डाटा को PUBG मोबाइल से ट्रांसफर करने की अनुमति दी थी। जिन लोगों ने PUBG मोबाइल में लॉगइन करने के लिए अपने फेसबुक या ट्विटर अकाउंट का इस्तेमाल किया था, उन्हें पहले बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया में डाटा ट्रांसफर करने के लिए, उन्हीं अकाउंट्स का इस्तेमाल करने की अनुमति थी।

हाल ही में, बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया ने घोषणा की थी कि एंड्रॉइड डिवाइसों के एम्बेडेड ब्राउजर में फेसबुक अकाउंट्स के साथ सभी लॉगइन 5 नवंबर से डिसेबल हो जाएंगे। इस बदलाव की घोषणा बीजीएमआई द्वारा फेसबुक एसडीके (सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट किट) में एक पॉलिसी अपडेट के कारण की गई थी। अब जिन खिलाड़ियों के स्मार्टफोन में फेसबुक ऐप इंस्टॉल है, वे अपने फेसबुक अकाउंट के जरिए लॉग इन कर सकेंगे। यह डेटा ट्रांसफर के लिए भी लागू होता है। ट्विटर के लिए वेब लॉगइन काम करेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *