Saturday, December 3

दूसरी डोज लगवाने वाले विद्यार्थियों को ही कक्षाओं में बैठने की अनुमति होगी

दूसरी डोज लगवाने वाले विद्यार्थियों को ही कक्षाओं में बैठने की अनुमति होगी


इंदौर
सत्र 2021-22 को लेकर कालेज-विश्वविद्यालय में यूजी-पीजी कोर्स में प्रवेश को लेकर प्रक्रिया खत्म हो चुकी है। सोमवार से फर्स्ट ईयर के विद्यार्थियों की आफलाइन कक्षाएं भी शुरू की जाएगी। अब दूसरी डोज लगवाने वाले विद्यार्थियों को ही कक्षाओं में बैठने की अनुमति होगी। इसके लिए उच्च शिक्षा विभाग ने टीकाकरण जागरुकता अभियान चलाने पर जोर दिया है। विभाग ने कालेज व विश्वविद्यालय को निर्देश दिए है कि निर्धारित समय बीतने के बावजूद जिन विद्यार्थियों ने अब तक दूसरा डोज नहीं लगवाया है। उन्हें सात दिन में टीका लगवाया जाए। कालेजों के शिक्षकों को टीकाकरण को लेकर जिम्मेदारी सौंपी है। उन्हें छात्र-छात्राओं के अलावा उनके अभिभावकों को भी टीका लगवाने के लिए प्रोत्साहित करना है।

शैक्षणिक संस्थान को निर्देश देते हुए विभाग ने कहा कि विद्यार्थियों के अलावा उनके परिवार के सदस्यों की जानकारी भी पोर्टल पर अपलोड करना है। साथ ही शिक्षकों के बारे में भी बताना है। वहीं फेसबुक, ट्वीटर और वाट्सएप पर टीकाकरण से जुड़ी जानकारी देना है। विभाग ने एनएसएस कैम्प लगाकर लोगों को जागरूक करने पर जोर दिया है जबकि विद्यार्थियों को अपने आसपास जिन लोगों ने दूसरा डोज नहीं लगवाया है, उन्हें नजदीकी टीकाकरण केंद्र पर भेजे और संक्रमण से सुरक्षित करवाए। जागरुकता अभियान चलाने के पीछे वजह यह है कि अभी प्रदेश में एक करोड़ लोगों को वैक्सीन की दूसरी डोज नहीं लगी है। अन्य देशों में संक्रमण के बढ़ते मरीजों को देखते हुए शासन ने टीकाकरण तेज करने के निर्देश दिए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.