Friday, February 3

राहुल की बैठक में सांसदों की गैरमौजूदगी के सियासी मायने, कांग्रेस में तकरार जारी

राहुल की बैठक में सांसदों की गैरमौजूदगी के सियासी मायने, कांग्रेस में तकरार जारी


 चंडीगढ़।
पंजाब में कांग्रेस की मुश्किलें खत्म होने का नाम नहीं ले रही हैं। विधानसभा चुनाव के बीच मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी और प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू में झगड़े के साथ सांसदों की नाराजगी पार्टी को भारी पड़ सकती है। लोकसभा सांसद परनीत कौर सहित कई सांसद पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के करीबी माने जाते हैं।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार को पंजाब चुनाव प्रचार अभियान की शुरुआत की पर पार्टी सांसद मनीष तिवारी, रवनीत सिंह बिट्टू, जसबीर सिंह गिल, परनीत कौर और मोहम्मद सादिक गैरहाजिर रहे। इन सांसदों ने किसी तरह की नाराजगी से इनकार करते हुए कहा कि उन्हें बुलाया नहीं गया था।

सांसदों की दलील के बावजूद पार्टी रणनीतिकार मानते हैं कि यह भविष्य के लिए एक संकेत हैं। सांसद परनीत कौर पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की पत्नी हैं। कैप्टन ने हाल ही में कांग्रेस छोड़कर पंजाब लोक कांग्रेस के नाम से नई पार्टी बनाई है और वह भाजपा के साथ गठबंधन में विधानसभा चुनाव लड़ रहे हैं। ऐसे में पार्टी सांसदों की गैरहाजिरी को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता।

पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि इसका असर कांग्रेस की लोकसभा में रणनीति पर भी पड़ेगा। पार्टी पहले ही परनीत कौर को सोशल मीडिया पर कैप्टन फॉर 2022 का फोटो लगाने और उनके समर्थकों से मिलने के लिए नोटिस जारी कर चुकी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.