Saturday, December 3

दिवाली पर पटाखा फूटने के बाद बढ़ा शहरों में प्रदूषण का स्तर

दिवाली पर पटाखा फूटने के बाद बढ़ा शहरों में प्रदूषण का स्तर


भोपाल
पटाखों पर पाबंदी के बीच एमपी के बड़े शहरों में खूब धूम धड़ाका हुआ है। देर रात तक लोग सभी शहरों में पटाखा फोड़ते रहे हैं। एनजीटी के निर्देश के अनुसार एमपी के चार बड़े शहरों में दो घंटे तक ही पटाखे फोड़ने थे। वहीं, कुछ शहरों में ग्रीन पटाखे जलाने के निर्देश दिए गए थे। इसके बावजूद लोग पूरी रात पटाखे फोड़ते रहे हैं। इससे इन शहरों की फिजा बिगड़ गई है। पटाखों से शहर की हवा जहरीली हो गई है।

कई शहरों में प्रदूषण का स्तर सामान्य दिन के तुलना में काफी बढ़ गई है। राजधानी भोपाल में दिवाली की रात प्रदूषण का स्तर 246 पर पहुंच गया है। दिवाली की रात PM2.5 AQI 350 था। वहीं, PM10 AQI 187 था। वहीं, एयरपोर्ट विजिबिलिटी 5666.67 एम है।

ग्वालियर में प्रदूषण का स्तर 257 है। पूरे एमपी में यह सबसे अधिक है। उज्जैन में प्रदूषण का स्तर 222 है। इंदौर में प्रदूषण का स्तर 192 है। प्रदूषण बढ़ने की वजह से दमा मरीजों को सांस लेने में तकलीफ हो सकती है। प्रदूषण ट्रैकर के अनुसार कई शहरों में दिवाली की रात स्तर काफी बढ़ गया था। रात के बाद लगातार प्रदूषण का स्तर गिरना शुरू हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.