Friday, February 3

राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषक मजदूर न्याय योजना अब तक 4 हजार 893 ने किया आवेदन

राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषक मजदूर न्याय योजना अब तक 4 हजार 893 ने किया आवेदन


कोरिया
जिले में राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषक मजदूर न्याय योजना के तहत भूमिहीन कृषि मजदूरों को लाभ दिलाने के लिए जिले में पंजीयन कार्य जारी है। 11 अक्टूबर से 17 अक्टूबर 2021 तक एक सप्ताह में 758 आवेदन प्राप्त हुआ हैं। योजना के अंतर्गत जिले के कुल 363 गांवों में अब तक कुल 4 हजार 893 आवेदन प्राप्त हुए है। जिनमे विकासखण्ड बैकुंठपुर के 1 हजार 84, विकासखंड सोनहत के 440, विकासखण्ड खडगवां के 739, विकासखण्ड मनेन्द्रगढ़ के 1 हजार 388, विकासखण्ड भरतपुर के 1 हजार 242 आवेदन शामिल है।योजना के अंतर्गत पंजीयन कार्य एक सितंबर से शुरू है, जो 30 नवंबर तक किया जाएगा। योजना के माध्यम से भूमिहीन कृषि मजदूर परिवारों को प्रतिवर्ष 6 हजार रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान किया  जाएगा।

भूमिहीन कृषि मजदूर के रूप में जिले के ऐसे व्यक्ति को चिन्हांकित किया जाएगा, जिनके पास कोई कृषि भूमि या वन अधिकार पट्टा नहीं है। ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर परिवार के अंतर्गत चरवाहा, बढ़ई, लोहारए मोची, नाई, धोबी, पौनी पसारी व्यवस्था से जुड़े परिवार तथा अन्य वर्ग आएंगे, जिनके पास कोई कृषि भूमि ना हो।भूमिहीन कृषि मजदूरों के रूप में पंजीयन के लिए हितग्राहियों को आवेदन फार्म ग्राम पंचायत कार्यालय में प्रस्तुत करना होगा। इस आवेदन फार्म में मुखिया का नाम, गांव का पता,पटवारी हल्का नंबर, सदस्यों का विवरण,बैंक खाता,आधार कार्ड आदि का विवरण दर्ज करना होगा।हितग्राही परिवार को जरूरी दस्तावेज के साथ आवेदन करने के पश्चात पावती भी पंचायत सचिव से प्राप्त होगी। पंचायत सचिवों से प्राप्त आवेदनों को ग्रामवार मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत कार्यालय में निर्धारित समय सीमा के भीतर जमा करना होगा। इस कार्यालय के पोर्टल में प्राप्त आवेदनों की इंट्री की जाएगी। ततपश्चात राजस्व अधिकारियों ने भुइयां रिकार्ड के आधार पर इन प्रविष्टियों का परीक्षण किया जाएगा। पोर्टल में प्रर्दशित नियमो के अनुसार जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी ने पंजीयन की कार्यवाही की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.