Saturday, February 4

सैकड़ों बेरोजगारों को रोजगार देगी राशन आपके द्वार योजना

सैकड़ों बेरोजगारों को रोजगार देगी राशन आपके द्वार योजना


भोपाल
मुख्यमंत्री राशन आपके द्वार योजना से प्रदेश के सैकड़ों युवाओं को रोजगार मिल सकेगा। राज्य सरकार आदिवासी विकासखंडों में राशन पहुंचाने के लिए चार सौ युवाओं को वाहन दिलवाएगी। इसके लिए अनुदान और कर्ज भी उपलब्ध कराया जाएगा।

खाद्य विभाग राशन घर तक पहुुंचाने के लिए वाहनों का प्रबंध कर रहा है। आदिवासी परिवारों को घर बैठे राशन मिल सकेगा। इसके लिए  साढ़े सात टन से आठ टन तक के टाटा एस गोल्ड पेट्रोल, मारुति सुजुकी सुपर केरे पेट्रोल,  टाटा एस गोल्ड डीजल, महेन्द्रा सुप्रो मिनी ट्रक वाहन के लिए एकमुश्त मार्जिन मनी दो लाख उपलब्ध कराई जाएगी।  इसमें चार लाख 15 हजार 370 रुपए से लेकर 5 लाख 16  हजार 362 रुपए का कर्ज दिलाया जाएगा। इसमें वाहन लेने वाले युवाओं को हर माह 6 जार 351 से 7 हजार 895 रुपए की मासिक किस्त चुकानी होगी।  इसी तरह टाटा इन्ट्रा, महेन्द्रा, पिकअप,  अशोक लीलेंड के  वाहन जिनकी क्षमता सत्रह लाख टन अनाज परिवहन की है उकने लिए तीन लाख रुपए का मार्जिन मनी देना होगा और बाकी 6 लाख 28 हजार से लेकर 7 लाख 52 हजार रुपए का कर्ज बैंक से दिलवाया जाएगा। इसके लिए हितग्राहियों को 9 हजार 615 रुपए से  लेकर 11 हजार 497 रुपए की मासिक किस्त देना होगा। वाहन खरीदने के लिए हितग्राही को 25 हजार रुपए हितग्राही अंश जमा करना होगा  बाकी व्यवस्था राज्य सरकार कराएगी।

हर माह चौबीस से इकतीस हजार किराया
 जो वाहन अनाज परिवहन के लिए लगाए जाएंगे उनके किराए के रुप में वाहन स्वामियों को चौबीस हजार रुपए से 31 हजार रुपए मासिक किराया मिलेगा। अनाज तुलाई, भराई के लिए लगने वाला खर्च अलग से मिलेगा।  यह वाहन उन्हीं क्षेत्रों में रहने वाले शिक्षित बेरोजगारों के लगाए जाएंगे। हितग्राही को 21 से 45 वर्ष तक की उम्र का होना होगा। अनुसूचित जनजाति के उम्मीदवार जो पांचवी परीक्षा उत्तीर्ण हो और उनके पास लाइट मोटर व्हीकल चलाने का  लाइसेंस हो उन्हें यह वाहन मिल सकेंगे। शासकीय सेवक, आयकर दाता, पेंशनर, आयकर दाता और निर्वाचित प्रतिनिधियों को यह वाहन लेने की पात्रता नहीं होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.