Saturday, December 3

सोनिया गांधी ने दो विधायकों के कांग्रेस छोड़ने के अगले ही दिन बुलाई मणिपुर के नेताओं की बैठक

सोनिया गांधी ने दो विधायकों के कांग्रेस छोड़ने के अगले ही दिन बुलाई मणिपुर के नेताओं की बैठक


नई दिल्ली
कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने मंगलवार को राष्ट्रीय राजधानी में अपने आवास पर मणिपुर के नेताओं से मुलाकात की और राज्य के राजनीतिक हालात पर चर्चा की। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (एआईसीसी) के मणिपुर प्रभारी भक्त चरण दास ने एएनआई से बात करते हुए कहा कि बैठक मणिपुर चुनाव को लेकर थी। उन्होंने कहा, "हमने मणिपुर की राजनीतिक स्थिति और आने वाले चुनावों के बारे में सोनिया गांधी के साथ चर्चा की। सभी ने अपना दृष्टिकोण रखा और इसे आलाकमान ने सूचीबद्ध किया। सभी ने अपने विचार प्रस्तुत किए, उन्होंने वरिष्ठ नेताओं के साथ लंबी चर्चा की।" कांग्रेस नेता ने कहा कि बैठक बहुत सौहार्दपूर्ण रही।

40 मिनट तक चली बैठक
बैठक लगभग 40 मिनट तक चली और बैठक में समग्र राजनीतिक स्थिति पर संक्षेप में चर्चा की गई। यह पूछे जाने पर कि क्या राहुल गांधी भी मौजूद थे, दास ने कहा कि बैठक की अध्यक्षता अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने की थी और राहुल गांधी वहां नहीं थे। बैठक में कांग्रेस विधायक दल (सीएलपी) के नेता, कार्यकारी अध्यक्ष, कई अन्य विधायक, वरिष्ठ पर्यवेक्षक जयराम रमेश और एआईसीसी प्रभारी भक्त चरण दास उपस्थित थे। राज्य में अगले साल चुनाव होने हैं। मणिपुर में 60 विधानसभा सीटें हैं और भाजपा इस समय सत्ता में है।

और भी कई विधायक छोड़ सकते कांग्रेस का साथ
मणिपुर में कांग्रेस की चुनौतियां बढ़ती जा रही हैं। एक के बाद उसके विधायक भाजपा में शामिल हो रहे हैं। हाल में विधायक राजकुमार इमो सिंह और यान्थोंग हौकीप भाजपा में शामिल हो गए। पर यह सिलसिला यही थमने वाला नहीं है। पार्टी मानती है कि अभी और विधायक साथ छोड़ सकते हैं।
 

Leave a Reply

Your email address will not be published.