Saturday, December 3

छग के सबसे बड़े छठ घाट अरपा हुई दीयों व लाइटिंग से रोशन

छग के सबसे बड़े छठ घाट अरपा हुई दीयों व लाइटिंग से रोशन


बिलासपुर
अरपा के घाट पर छठ पर्व की भव्यता बिलासपुर में भी बहुत ही खुबसूरत दिखाई पड़ रही है।  सोमवार की शाम अरपा मईया की आरती से छठ पर्व की शुरूआत हो गई है। इस दौरान दीयों और आकर्षक लाइटिंग से अरपा रोशन हो उठी। आयोजन में मौजूद नेताओं ने बदहाल अरपा को संवारने का संकल्प भी लिया।आज खरना, कल डूबते सूर्य को अर्घ्य देंगे और 11 नवंबर को उगते सूर्य को अर्घ्य दिया जाएगा। इसके साथ चार दिनी इस महापर्व का समापन होगा।

छठ पर्व यूं तो बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश जैसे पूर्वोत्तर राज्यों में मनाया जाता है, लेकिन, अब यह पूरे देश का हो गया है। सभी जगह इसे हर्षोल्लास से मनाने लगे हैं। ऐसा ही नजारा बिलासपुर रायपुर  में छठ पर्व पर देखने को मिलता है।

आज खरना, कल डूबते सूर्य को देंगे अर्घ्य-
-चार दिनी इस उत्सव में सोमवार को नहाय खाय के साथ मंगलवार को खरना किया जाएगा। इसके साथ ही व्रती महिलाएं 36 घंटे का व्रत शुरू करेंगी। सूर्य आराधना के इस पर्व में सूर्य देव की पूजा अर्चना कर छठी मईया की भी पूजा की जाती है। खरना के अगले दिन यानि की 10 नवंबर की शाम को डूबते सूर्य को अर्घ्य दिया जाएगा। इस दौरान व्रती महिलाएं नदी में खड़ी होकर सूर्य देव को अर्घ्य देंगी।

11 को होगा समापन-
-10 नवंबर को डूबते सूर्य को अर्घ्य देने के साथ ही महिलाएं रात में घर में छठी मईया की पूजा करेगी। पूरी रात जागरण के बाद 11 नवंबर को तड़के पांच बजे सूर्योदय से पूर्व छठघाट पहुंचेगी। यहां उगते सूर्य को अर्घ्य दिया जाएगा। इसके बाद पूजा का समापन होगा और व्रती महिलाएं पारणा करेंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.