Tuesday, November 29

रिकवरी एजेंट से परेशान कार मालिक ने अपनी ही कार में पेट्रोल डालकर लगा दी आग

रिकवरी एजेंट से परेशान कार मालिक ने अपनी ही कार में पेट्रोल डालकर लगा दी आग


ग्वालियर

ग्वालियर में एक कार मालिक ने खुद ही गुस्से में पेट्रोल छिड़क कर कार को जला दिया। कार को फाइनेंस कराया गया था, लेकिन किस्त न भरने पर रिकवरी टीम ने कार को लिफ्ट कर लिया। जब वह गाड़ी को ले जा रहे थे, तो कार मालिक आ गया। उसके हाथ में पेट्रोल की बोतल थी। देखते ही देखते उसने कार में पेट्रोल डाली और आग लगा दी।

चंद सेकेंड में कार आग का गोला बन गई। आसपास दहशत फैल गई। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस व दमकल दस्ता मौके पर पहुंचा और हालात पर काबू पाया, लेकिन तब तक कार पूरी तरह जल चुकी थी। घटना बुधवार शाम गोला का मंदिर भिंड रोड की है। अब पुलिस कार मालिक की तलाश कर रही है।

ग्वालियर के गोला का मंदिर भिंड रोड पर एक कार नंबर MP07 TA-12 (रजिस्ट्रेशन प्लेट टूटी होने पर पूरा नंबर नहीं मिला) को कुछ लोग एक ऑटो से लिफ्ट कर ले जा रहे थे। लोगों का कहना था कि एक फाइनेंस कंपनी से यह कार फाइनेंस कराई थी, लेकिन कार खरीदने के बाद एक बार भी उसकी किस्त नहीं चुकाई गई थी। जब कंपनी के लोग कार को ऑटो से बांधकर ले जा रहे थे, तभी वहां कार मालिक आ गया। इस तरह कार ले जाने से वह काफी नाराज हुआ। कार मालिक ने धमकाया। जिस पर फाइनेंस कंपनी के रिकवरी टीम के कर्मचारियों ने मोबाइल पर उसका वीडियो बनाना शुरू कर दिया।

यह कहते हुए अब ले जाकर दिखा लगा दी आग
जैसे ही रिकवरी टीम ने वीडियो बनाना शुरू किया, तो कार मालिक जो सिर पर टोपी और मुंह पर मास्क पहने हुए था। उसने कहा- अब ले जाकर दिखा कार और गाड़ी पर पेट्रोल की बोतल उड़ेल दी। इसके बार कार में आग लगा दी। देखते ही देखते कार आग की लपटों में घिर गई। आसपास दहशत फैल गई। लोग दूर खड़े हो गए। लोगों ने वीडियो बनाने शुरू कर दिए।

फैक्ट्री कर्मचारी ने दी फायर ब्रिगेड को सूचना
कार में आग लगती देख पास की फैक्टरी के गार्ड ने तत्काल आग की सूचना पुलिस और फायर ब्रिगेड को दी। सूचना मिलने पर फायर ब्रिगेड मौके पर पहुंची और पानी फायरिंग कर आग पर काबू पाया, लेकिन तब तक कार पूरी तरह जल चुकी थी। इसी समय पुलिस भी मौके पर पहुंची है। घटना के लाइव वीडियो पुलिस को मिले हैं। कार मालिक के खिलाफ मामला दर्ज कर उसकी तलाश की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.