Monday, April 15

गन्ना किसानों को योगी सरकार ने दिया एक और मौका, 15 नवंबर तक कर सकेंगे आवेदन

गन्ना किसानों को योगी सरकार ने दिया एक और मौका, 15 नवंबर तक कर सकेंगे आवेदन


मेरठ
गन्ना विभाग ने किसानों को आन लाइन अपना घोषणा पत्र भरने का एक और मौका दिया है। अब किसान आगामी 15 नवंबर तक अपना आवेदन कर सकते हैं। इसके बाद मौका नहीं दिया जाएगा।

गन्ना विभाग के अनुसार आन लाइन घोषणा पत्र भरने की अंतिम तिथि 31 अक्टूबर थी, जिसे बढ़ाकर अब 15 नवंबर कर दिया गया है। जिला गन्ना अधिकारी डा़  दुष्यंत कुमार ने बताया यह निर्णय किसानों के इस समय खरीफ फसलों की कटाई में व्यस्त रहने और त्योहारों को ध्यान में रखकर दिया गया है। यदि इस अंतिम तिथि तक किसानों ने अपना घोषणा पत्र नहीं भरा तो उनका गन्ना सट्टा संचालित नहीं हो सकेगा। इस सम्बंध में गन्ना आयुक्त ने भी किसानों से अपील की है कि वह इस अंतिम अवसर का लाभ उठाते हुए अपना आवेदन आगामी 15 नवंबर तक जरूर कर दें।
गन्ना पर्यवेक्षक करेंगे किसानों को जागरुक

कृषि विभाग ने आदेश जारी करते हुए कहा कि इस बार कोई भी किसान अपने खेतों में पराली जलाने न पाए। अगली फसल को देखते हुए यह सुनिश्चित किया जाए। साथ ही किसानों को जागरूक किया जाए। पेराई सत्र शुरू होने पर गन्ना कटाई के बाद किसान खेत में एकत्र हुई पराली को नष्ट कर देते हैं। इससे प्रदूषण तो फैलता ही है। साथ ही मिट्टी की ऊपजाऊ क्षमता भी नष्ट हो जाती है। सरकार हर बार किसानों से अपील करती है कि पराली को न जलाएं, उसे खेत में ही जोत दें। पराली से खाद भी तैयार हो जाती है, मगर किसान खेतों में एकत्र पराली को जला देते हैं। इससे पर्यावरण को काफी नुकसान होता है। जिला कृषि अधिकारी डा. प्रमोद सिरोही ने बताया कि इस बार कोई भी किसान अपने खेतों में पराली न जलाए। इसके लिए गांवों में पर्यवेक्षकों को लगाया गया है। साथ ही गांव-गांव पम्पलेट के माध्यम से किसानों को जागरूक किया जाएगा। यही नहीं किसानों को पराली जलाने से होने वाले नुकसान के बारे में भी जानकारी दी जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *