Thursday, June 13

24 घंटे में 555 लोगों ने दम तोड़ा, भारत में कोरोना से जान गंवाने वालों की संख्या बढ़ी

24 घंटे में 555 लोगों ने दम तोड़ा, भारत में कोरोना से जान गंवाने वालों की संख्या बढ़ी


नई दिल्ली
आबादी के लिहाज से दुनिया के दूसरे सबसे बड़े देश भारत में कोरोना के मामले अब काबू होते जा रहे हैं। पिछले 2 दिनों में नए मरीजों की संख्या में कमी आई है, हालांकि अभी भी रोज 10 हजार से ज्यादा नए मरीजों का पता चल रहा है। स्वास्थ्य मंत्रालय की रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले 24 घंटों में देशभर में कोरोना के 11,850 नए मामले सामने आए हैं। राहत की खबर यह भी है कि, देश में सक्रिय मरीजों की संख्या में गिरावट आई है। अब देशभर में कोरोना के सक्रिय मरीज डेढ़ लाख से कम रह गए हैं, फिलहाल 13,63,08 मरीज ही हैं। वहीं, ठीक होने वालों की संख्या नए मिलने वाले मरीजों की तुलना में ज्यादा हुई है। बीते रोज 12403 मरीज डिस्चार्ज किए गए। इसे राहत के तौर पर लिया जा सकता है।

एक दिन में मौतों का आंकड़ा बढ़ा
कोरोना से जुड़ी चिंतित करने वाली बात यह है कि, पिछले 24 घंटे में 555 लोगों की मौतें दर्ज की गई हैं। दो दिन पहले यह संख्या कम थी। बताया जा रहा है कि, केरल में कोरोना वायरस का संक्रमण फैल रहा है और वहां लोगों की मौतें भी ज्यादा हो रही हैं। पूरे देश की बात की जाए तो सरकारी रिकॉर्ड में कोरोना से अब तक 463245 जानें जा चुकी हैं।

देश में वैक्सीनेशन जोरों पर
देश ने कोरोना वैक्सीनेशन में भी महारत हासिल की है। भारत सरकार की https://www.mohfw.gov.in/ वेबसाइट के मुताबिक, देशभर में लोगों को रोजाना 50 लाख से ज्यादा खुराकें दी जा रही हैं। अब तक लोगों को वैक्सीन की 1,11,40,48,134 खुराकें दी जा चुकी हैं। जिसमें से कल ही के दिन 58,42,530 खुराकें दी गईं। वहीं, अब तक कोरोना से ठीक होने वालों का आंकड़ा बढ़कर 33826483 पहुंच गया है। जिसमें से कल ही के दिन 12403 लोग डिस्चार्ज किए गए। सरकार का दावा है कि, रिवकरी रेट बढ़ा है और अब यह 98.26% है।
 

नए मामले 274 दिनों में सबसे कम
स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा आज बताया गया कि, कोरोना संक्रमण के मामले अब 274 दिनों में सबसे कम दर्ज हुए हैं। सरकार अब देश में बच्चों को कोरोना के टीके लगाने की शुरुआत भी करने वाली है। दरअसल, खबर आई है कि कोलकाता में कई प्राइवेट अस्पताल बच्चों के लिए वैक्सीनेशन सेंटर बना रहे हैं। साथ ही वे बच्चों के डेटाबेस जुटा रहे हैं और स्कूलों से भी टाइअप कर रहे हैं ताकि ज्यादा से ज्यादा बच्चों को टीके लगाए जा सकें। केंद्र सरकार ने बच्चों के लिए अभी कोविशील्ड को मंजूरी तो नहीं दी, लेकिन "जायकोव-डी" को बच्चों के वैक्सीनेशन लिए अप्रूव किया है। "जाइकोव-डी "को जाइडस कैडिला ने बनाया है। इसके अलावा DGCI ने अगस्त के महीने में कैडिला को अप्रूवल दिया था। इस वैक्सीन को 12 साल से ज्यादा उम्र के सभी लोगों के लिए इमरजेंसी यूज अथॉराइजेशन (EUI) की मंजूरी दी गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *