Thursday, April 18

महात्मा गांधी नरेगा के अंतर्गत 24 लाख 40 हजार मानव दिवस सृजित

महात्मा गांधी नरेगा के अंतर्गत 24 लाख 40 हजार मानव दिवस सृजित


सुकमा
 श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध कराने की दिशा में जिले में महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना मील का पत्थर साबित हो रही है। जिले में स्थानीय स्तर पर रोजगार के अवसरों की सुलभता को सर्वोच्च प्राथमिकता देने के फलस्वरूप महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजनान्तर्गत जिले के विभिन्न ग्राम पंचायतों में डबरी निर्माण, कुआं निर्माण, नहर लाइनिंग, पौधारोपण, प्रधानमंत्री आवास निर्माण, सीपीटी, चेक डेम निर्माण इत्यादि रोजगार मूलक कार्यों के जरिये ग्रामीणों को रोजगार प्रदान किया जा रहा है।

सुकमा जिले मे महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना वित्तीय वर्ष 2021-22 में माह फरवरी तक प्राप्त लक्ष्य का 82.5 प्रतिशत उपलब्धि हासिल की गई हैं। राज्य शासन से प्राप्त 29.55 लाख मानव दिवस लक्ष्य के विरुद्ध जिले में अब तक कुल 24.40 लाख मानव दिवस का रोजगार दिलाया गया है। जिसमें 38 हजार 057 जॉब कार्ड धारी परिवारों को रोजगार मिला। यही नहीं इनमें से 8127 परिवारों को 100 दिवस का रोजगार उपलब्ध कराया गया। इस वित्तीय वर्ष में जिले के 877 दिव्यांगजनों सहित 78 हजार 263 श्रमिकों को रोजगार प्रदान किया गया, जिसमें 50 प्रतिशत महिलाओं को रोजगार मिला है।

कोण्टा विकासखण्ड अन्तर्गत ग्राम पंचायत गोलापल्ली में डबरी निर्माण कार्य, किस्टाराम में भूमि समतलीकरण एवं समूह शेड निर्माण कार्य, ग्राम पंचायत करीगुण्डम एवं पालोड़ी में मिट्टी सड़क एवं तार फेंसिंग का कार्य प्रगतिरत है। मनरेगा के तहत उक्त कार्यों के अलावा जिले में स्वीकृत नवीन पंचायत भवन निर्माण, आंगनबाड़ी केन्द्र भवन निर्माण, कुआं निर्माण, उचित मूल्य की दुकान सह गोदाम निर्माण आदि कार्य प्रगति पर हैं। इन सभी अधोसंरचना विकास कार्यों के जरिये स्थायी परिसंपत्ति का निर्माण होगा, जिससे ग्रामीण ईलाकों में विकास को बढ़ावा मिलेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *