Saturday, April 20

BJP नेत्री रीना भाटी ने सपा नेता पर लगाए गंभीर आरोप

BJP नेत्री रीना भाटी ने सपा नेता पर लगाए गंभीर आरोप


गाजियाबाद। यूपी में पहले चरण के लिए विधानसभा चुनाव का आगाज हो चुका है। मतदाता मतदान केंद्र पहुंचकर वोट डाल रहे हैं। लेकिन उत्तर प्रदेश के जिले गाजियाबाद के कस्बा खोड़ा में एक पब्लिक स्कूल से आज यानी गुरुवार को पुलिस ने 12 संदिग्ध युवकों को पकड़ा है। उन युवकों की पहचान स्थानीय तौर पर नहीं हुई है और वो वोट डालने के लिए भी नहीं पहुंचे थे। इन 12 युवकों के पास शराब बरामद हुई है। खोड़ा नगर पंचायत की चेयरमैन एवं भारतीय जनता पार्टी (BJP) नेत्री रीना भाटी ने समाजवादी प्रत्याशी अमरपाल शर्मा पर आरोप लगाए हैं कि उन्होंने ही इन युवकों को हमला कराने के लिए भेजा था। हालांकि पुलिस की इस मामले में की गई जांच से अभी तक ऐसी कोई बात सामने नहीं आई है। पुलिस सभी संदिग्धों से पूछताछ कर रही है।

पुलिस ने युवकों को लिया हिरासत में
गाजियाबाद के कस्बा खोड़ा में गोल्डन पब्लिक स्कूल है। यहां से इन सभी 12 युवकों को हिरासत में लिया गया है। इंदिरापुरम सर्किल के सीओ अभय मिश्रा ने बताया कि पुलिस को इस स्कूल परिसर के नजदीक कुछ युवकों के मौजूद होने की खबर मिली थी। तत्काल पुलिस पहुंची और सभी को थाने पर ले आई है। ये युवक स्थानीय नहीं हैं। इनके पास कोई भी डॉक्यूमेंट नहीं मिला है। न ही ये वोट डालने के लिए आए थे। सीओ ने बताया कि इन युवकों से कुछ शराब जरूर मिली है। विस्तृत पूछताछ चल रही है।

अमरपाल शर्मा पर लगे गंभीर आरोप
तो वहीं खोड़ा नगर पंचायत की चेयरमैन एवं भाजपा नेत्री रीना भाटी ने इस मामले में सपा के साहिबाबाद विधानसभा सीट प्रत्याशी अमरपाल शर्मा पर गंभीर आरोप लगाए हैं। रीना का कहना है कि अमरपाल ने ये युवक उन पर हमला करने के लिए भेजे थे। रीना भाटी का यह भी कहना है कि उनके पति का हत्यारा अमरपाल शर्मा चुनाव में खुलेआम घूम रहा है। रीना के पति गज्जी भाटी की हत्या कर दी गई थी, इसमें अमरपाल शर्मा जेल गए थे, जो अब जमानत पर हैं। पुलिस ने रीना भाटी को जैसे-तैसे शांत किया।

वायरल हुआ था वीडियो
बता दें कि कुछ दिनों पहले गाजियाबाद की साहिबाबाद सीट से समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी अमरपाल शर्मा का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें वह पार्टी को ही भाड़ में जाने जैसी बातें कह रहे हैं। जब वह क्षेत्र में चुनाव प्रचार के दौरान एक नुक्कड़ सभा को संबोधित कर रहे थे। वायरल वीडियो में प्रत्याशी अमरपाल शर्मा कह रहे हैं, 'मेरा दल से क्या है, उससे तुम्हें क्या लेना‌? तुम्हें तो ये सोचना चाहिए कि अमरपाल शर्मा है, इसका चुनाव चिन्ह साइकिल है। भाड़ में जाए पार्टी, कौन है पार्टी, पार्टी से आपका नाता नहीं, पार्टी से मेरा नाता है। आपका तो मेरे से है और मुझे आपसे। आपको सोचना चाहिए कि हम किसको वोट करेंगे। हम दल को वोट नहीं करेंगे। हां, दल को वोट करो, जब 23 की बात आएगी तो करो। तब तो तुम्हारे साथ खड़ा हूं'।

पूर्व विधायक हैं अमरपाल शर्मा
अमरपाल शर्मा साल-2012 के विधानसभा चुनाव में बसपा से साहिबाबाद के विधायक बने थे। 2017 में वह भाजपा के सुनील शर्मा से हार गए। इस बार सपा ने अमरपाल शर्मा को इस सीट से प्रत्याशी बनाया है। अमरपाल शर्मा फिलहाल जमानत पर बाहर हैं। वह खोड़ा नगर पालिका के चेयरमैन गजेंद्र भाटी की हत्या में जेल गए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *