Wednesday, April 17

मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने उद्योगपतियों और निवेशकों से की वन-टू-वन चर्चा

मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने उद्योगपतियों और निवेशकों से की वन-टू-वन चर्चा


मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने उद्योगपतियों और निवेशकों से की वन-टू-वन चर्चा

मुख्यमंत्री ने सिटी इलेक्ट्रिक ट्रक और इलेक्ट्रिक स्टॉफ बस को झंडी दिखाकर किया रवाना

बाइसन रिसोर्ट मढ़ई बना देश का पहला फाइव ग्रीन लीफ रेटिंग रिसोर्ट – मुख्यमंत्री डॉ.

भोपाल

मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने शुक्रवार को रीजनल इंडस्ट्री कॉन्‍क्लेव के पहले दिन के दूसरे सत्र में उद्योगपतियों और निवेशकों से वन-टू-वन चर्चा की। उद्योग समूहों ने प्रदेश में निवेश की संभावनाओं और औद्योगिक इकाईयों के विस्तार के संबंध में मुख्यमंत्री डॉ. यादव के साथ विचार-विमर्श किया।

मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने वन-टू-वन भेंट के बाद वीई कमर्शियल द्वारा बनाए गये स्मार्ट सिटी इलेक्ट्रिक ट्रक, इलेक्ट्रिक स्टॉफ बस और बेस्ट लाईफ स्टाईल अपेरल प्रा.लि. उज्जैन के पहले शिपमेंट को झंडी दिखाकर रवाना किया।

मुख्यमंत्री डॉ. यादव के साथ जेके सीमेंट के राघवपत सिंघानिया ने प्रदेश में सीमेंट इकाई के विस्तार, वेल्सपन ग्रुप के प्रबंधक निदेशक विपुल माथुर ने टेक्सटाईल इकाई और हेटिच इंडिया के एन्ड्रे एकोल्हड ने फर्नीचर इकाई विस्तार की संभावनाओं पर चर्चा की। ऑटोमोबाईल क्षेत्र में कार्यरत वीई कमर्शियल के विनोद अग्रवाल, टेक्सटाईल क्षेत्र में सक्रिय डोनियर शूटिंग्स के राजेन्द्र अग्रवाल और पेपर उद्योग में सक्रिय सीके बिरला ग्रुप के ओरिएंट पेपर इंडस्ट्रीज लिमिटेड के अश्विन लड्ढा ने भी भेंट एवं चर्चा की।

मुख्यमंत्री डॉ. यादव से एलएनटी ग्रुप के एमवी सतीश, टायर मेनुफेक्चरिंग में सक्रिय रालसन ग्रुप के मंजुल पहावा, खाद्य पदार्थ तथा मसाला उद्योग में सक्रिय एमडीएच ग्रुप के राजीव गुलाटी, नकरणीय ऊर्जा क्षेत्र में कार्यरत ब्लयू लीफ के अमिराम रॉथ और एशियन पेन्ट्स के प्रतिनिधियों ने प्रदेश में विभिन्न क्षेत्रों में निवेश और औद्योगिक गतिविधियों के विस्तार के संबंध में विचार-विमर्श किया।

बाइसन रिसोर्ट मढ़ई बना देश का पहला फाइव ग्रीन लीफ रेटिंग रिसोर्ट – मुख्यमंत्री डॉ.

मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने इस उपलब्धि पर रिसोर्ट प्रबंधक तथा जिला प्रशासन को दी बधाई

मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने कहा है कि "यह प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी का दूरदर्शी नेतृत्व है जो देश को स्वच्छता के नए आयामों पर ले जा रहा है। उन्होंने कहा कि अतुल्य भारत के हृदय मध्य प्रदेश की सुंदरता और स्वच्छता को आगे बढ़ाएं। स्वच्छ पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए ग्रीन लीफ रेटिंग एक अनूठी पहल है। मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने बाइसन रिसोर्ट, मढ़ई के प्रबंधक तथा जिला प्रशासन को इस उपलब्धि के लिये बधाई दी है।

केन्द्रीय पेयजल और स्वच्छता और पर्यटन मंत्रालय के संयुक्त तत्वाधान में देश में आतिथ्य सुविधा जैसे रिसॉर्ट, होमस्टे, धर्मशाला इत्यादि सुविधाओं के लिए "स्वच्छता ग्रीन लीफ रेटिंग सिस्टम" के अंतर्गत नर्मदापुरम जिले के सुप्रसिद्ध पर्यटन स्थल मढ़ई में स्थित बायसन रिसॉर्ट को देश में प्रथम स्थान प्राप्त हुआ।  कलेक्टर एवं जिला पुरातत्व पर्यटन संस्कृति परिषद नर्मदापुरम की अध्यक्ष सुश्री सोनिया मीना एवं मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत नर्मदापुरम श्री एस एस रावत द्वारा फाइव ग्रीन लीफ रेटिंग प्रमाण पत्र बायसन रिसॉर्ट, मढ़ई (MPT) को प्रदान किया गया।

उल्‍ले‍खनीय है कि मिशन संचालक, राज्य स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) भोपाल के निर्देशानुसार पेयजल एवं स्वच्छता विभाग ने पर्यटन मंत्रालय के संयुक्त तत्वाधान से देश में आतिथ्य सुविधा जैसे रिसोर्ट, होमस्टे, धर्मशाला इत्यादि में सुविधाओं के लिये स्वच्छता "ग्रीन लीफ रेटिंग सिस्टम" का शुभारंभ किया है। जिसमें स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत स्वच्छ ग्रीन लीफ रेटिंग जारी की जाती है। इसमें संबंधित रिसोर्ट / होटल द्वारा स्वच्छता के विभिन्न मापदंडों पर अपना स्‍वयं आंकलन कर आवेदन प्रस्तुत किया जाता है। इसके बाद घोषित स्‍वच्‍छता के मापदंडों का सत्‍यापन एसडीएम की अध्यक्षता में गठित समिति द्वारा किया जाता है। जिसके आधार पर कलेक्टर की अध्यक्षता में गठित समिति द्वारा लीफ 1 से लेकर लीफ 5 तक की रेटिंग दी जाती है। रिसोर्ट/होटल को दिये जाने वाला उक्‍त रेटिंग प्रमाण पत्र आतिथ्‍य सुविधा में स्‍वच्‍छता ग्रीन लीफ रेटिंग प्रणाली में स्‍वैच्छिक रूप से भाग लेने एवं स्‍वच्‍छ पर्यटन को बढावा देने में सराहनीय योगदान देने के फलस्‍वरूप प्रदान किया जाता है। उल्लेखनीय है कि "एक ज़िला एक उत्पाद" श्रेणी में नर्मदापुरम ज़िले ने पर्यटन को चुना है। ज़िले की इस उपलब्धि से पर्यटन क्षेत्र को बढ़ावा मिलेगा।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *