Saturday, February 4

IND vs PAK: टॉस हारने के साथ ही बाबर और रिजवान की जोड़ी ने भारत से छीनी जीत

IND vs PAK: टॉस हारने के साथ ही बाबर और रिजवान की जोड़ी ने भारत से छीनी जीत


दुबई
टी-20 वर्ल्डकप 2021 में पाकिस्तान ने 10 विकेट से भारत को हरा दिया है। यह पहला मौका है, जब पाकिस्तान की टीम ने भारत को वर्ल्डकप में हराया है। 151 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए पाकिस्तान के ओपनर बाबर आजम और मोहम्मद रिजवान ने शानदार बल्लेबाजी की और बिना कोई विकेट खोए लक्ष्य हासिल कर लिया। यहां हम बता रहे हैं कि किन वजहों से भारतीय टीम को हार का सामना करना पड़ा।

152 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए पाकिस्तान के लिए बाबर और रिजवान की जोड़ी ने शानदार शुरुआत की और पहले विकेट के लिए अर्धशतकीय साझेदारी की। दोनों खिलाड़ियों ने काफी आसानी से रन बनाए। वहीं भारतीय गेंदबाज पाकिस्तान को शुरुआती झटके देने में नाकाम रहे।

भारतीय टीम में वरुण चक्रवर्ती को मिस्ट्री स्पिनर के तौर पर शामिल किया गया था। चयनकर्ताओं को उम्मीद थी कि विपक्षी बल्लेबाजों को उनकी गेंदें खेलने में परेशानी होगी और वरुण किसी भी समय पर विकेट निकालने में कामयाब होंगे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। पाकिस्तान के बल्लेबाजों ने संभलकर चक्रवर्ती की गेंदों को खेला और बाद में आसानी से उनके खिलाफ रन भी बनाए। चक्रवर्ती ने शुरुआत में रन जरूर रोके, लेकिन विकेट नहीं निकाल पाए। उनके आखिरी ओवर में पाकिस्तान के बल्लेबाजों ने खूब रन बटोरे और चक्रवर्ती ने अपने चार ओवरों में बिना कोई विकेट लिए 33 रन लुटाए।

इस मैच में भारतीय कप्तान विराट कोहली की कप्तानी भी काफी साधारण नजर आई। पाकिस्तान की टीम ने शुरुआती 10 ओवरों में कोई विकेट नहीं गंवाया था और 50 से ज्यादा रन भी बना लिए थे। इसके बावजूद कोहली ने अपने सबसे बेहतरीन गेंदबाज जसप्रीत बुमराह से सिर्फ एक ही ओवर कराया था। विराट ने 11वें ओवर में बुमराह से दूसरा ओवर कराया तब तक इस मैच में पाकिस्तान की पकड़ बहुत मजबूत हो चुकी थी।

पाकिस्तान के खिलाफ मैच में टॉस हारने के साथ ही भारतीय टीम मैच में पीछे हो गई थी। दुबई के मैदान में आईपीएल के दौरान 13 में से नौ मैच बाद में बल्लेबाजी करने वाली टीमों ने जीते थे। ऐसे में भारत के लिए टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करना जरूरी था, लेकिन भारतीय टीम टॉस हार गई और मैच में पीछे हो गई। पहले गेंदबाजी करते हुए पाकिस्तान ने पहले भारत को 151 रनों पर रोका और फिर आसानी से इस लक्ष्य का पीछा कर लिया।

भारतीय ओपनर रोहित शर्मा इस मैच में पहली ही गेंद पर आउट हो गए। शाहीन के खिलाफ रोहित की पुरानी कमजोरी फिर सामने आ गई और एक बार फिर वो इनस्विंग गेंद पर पगबाधा आउट हुए। रोहित की  ही तरह राहुल भी इनस्विंग गेंद पर क्लीन बोल्ड हुए। इससे पहले मोहम्मद आमिर ने अंतर आती गेंदों पर रोहित और रहाणे जैसे खिलाड़ियों को आउट किया था। अब शाहीन ने उन्हीं की तरह रोहित और राहुल का शिकार किया।

पाकिस्तान के खिलाफ भारतीय कप्तान विराट कोहली ने एक बार फिर शानदार अर्धशतक लगाया और अपनी टीम को 150 के पार पहुंचने में अहम योगदान दिया। भारत के शुरुआती दो विकेट जल्दी गिरने के बाद विराट ने क्रीज पर टिककर बल्लेबाजी की और 19वें ओवर में 57 रन बनाकर आउट हुए। उन्होंने अपनी पारी में पांच चौके और एक छक्का लगाया। इससे पहले भी विराट पाकिस्तान के खिलाफ वर्ल्डकप में शानदार पारियां खेल चुके हैं। वर्ल्डकप में पाकिस्तान के खिलाफ यह कोहली का तीसरा अर्धशतक था। यह पहला मौका था जब पाकिस्तान टीम वर्लडकप में विराट को आउट कर पाई है।

भारत के तीन विकेट जल्दी गिरने के बाद ऋषभ पंत और विराट कोहली ने अर्धशतकीय साझेदारी कर भारतीय पारी को संभाला। पंत ने 30 गेदों में 39 रनों की बेहतरीन पारी खेली। उन्होंने दो चौके और दो छक्के लगाए। पंत की पारी के चलते ही भारतीय टीम ने लय पकड़ी और कप्तान कोहली के ऊपर से दबाव कम हुआ। वहीं उन्होंने बड़े शॉट लगाकर पाकिस्तान के गेंदबाजों की लय बिगाड़ दी।

भारतीय टीम के मध्यक्रम बल्लेबाज सूर्यकुमार यादव ने एक बार फिर निराश किया और आट गेंदों में ग्यारह रन बनाकर आउट हुए। इस मैच में भी सूर्या गलत शॉट खेलकर आउट हुए, जबकि हार्दिक फिनिशर के रोल में खरे नहीं उतरे। उन्होंने भी आठ गेंदों में सिर्फ 11 रन बनाए। वहीं कप्तान कोहली ने जडेजा पर एक बार फिर भरोसा जताया और उन्हें पांड्या से पहले बल्लेबाजी के लिए उतारा, लेकिन जडेजा ने 13 गेंदों में सिर्फ 13 रन बनाए।

पाकिस्तान के लिए शाहीन अफरीदी और हरिस रऊफ ने अच्छी गेंदबाजी की अफरीदी ने अपने चार ओवरों में 31 रन देकर तीन अहम विकेट निकाले। वहीं रऊफ ने चार ओवरों में 25 रन देकर एक विकेट लिया। हालांकि पाकिस्तान के हसन अली काफी महंगे साबित हुए और उन्होंने अपने चार ओवरों में 44 रन देकर दो विकेट लिए। उनके अलावा बाकी सभी गेंदबाजों ने कंजूसी के साथ गेंदबाजी की और भारतीय बल्लेबाजों को हाथ खोलने का मौका नहीं दिया।  

Leave a Reply

Your email address will not be published.