Saturday, March 2

भ्रष्टाचार के दलदल में बना आईएनडीआईए कर रहा है देश को बांटने की कोशिश : गिरिराज सिंह

भ्रष्टाचार के दलदल में बना आईएनडीआईए कर रहा है देश को बांटने की कोशिश : गिरिराज सिंह


  • भ्रष्टाचार के दलदल में बना आईएनडीआईए कर रहा है देश को बांटने की कोशिश : गिरिराज सिंह
  •  घमंडिया गठबंधन का नेतृत्व कांग्रेस कर रही है, लेकिन इस मामले पर पूरे महागठबंधन का जुबान बंद है : गिरिराज सिंह

बेगूसराय
केंद्रीय ग्रामीण विकास एवं पंचायती मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा है कि आईएनडीआईए गठबंधन देश का बंटवारा करने की कोशिश कर रही है। उन्होंने एक बार फिर तेलंगाना के मुख्यमंत्री पर जोरदार हमला किया है, इसके साथ ही राहुल गांधी, लालू यादव एवं नीतीश कुमार सहित गठबंधन के अन्य नेताओं पर भी प्रहार किया है।

रविवार को बेगूसराय में आयोजित प्रेसवार्ता में गिरिराज सिंह ने महुआ मोइत्रा के संसद की सदस्यता बर्खास्त करने तथा कांग्रेस के साथ राज्यसभा सांसद धीरज साहू के घर से बड़े पैमाने पर नोट मिलने पर कहा कि आज घमंडिया गठबंधन का नेतृत्व कांग्रेस कर रही है। लेकिन इस मामले पर पूरे महागठबंधन का जुबान बंद है। सोनिया गांधी, राहुल गांधी, प्रियंका गांधी चुप क्यों हैं, धीरज शाह के पैसे कहां जा रहे थे।

आईएनडीआईए गठबंधन के लोगों ने क्या नरेन्द्र मोदी को हराने के लिए यह पैसा जमा किया गया था। नरेन्द्र मोदी का संकल्प है भ्रष्टाचार पर नकेल, वह नकेल कसते रहेंगे, चाहे कितना भी बड़ा ताकत क्यों नहीं हो, उस पर कार्रवाई होगी। ममता बनर्जी के मंत्री जेल में हैं, केजरीवाल के मंत्री जेल में हैं ,कांग्रेस के लोग तबाह हैं। इससे जाहिर होता है कि यह लोग भ्रष्टाचार के दलदल में हैं, विपक्ष में नैतिक ताकत नहीं है।

सोमनाथ चटर्जी जब लोकसभा के अध्यक्ष थे तो उन्होंने दस सांसदों को पैसा लेने के आरोप में बर्खास्त किया था। आज महुआ मोइत्रा को भी पैसा लेने के आरोप में ही बर्खास्त किया गया है। मोदी सरकार ने देश के कानून में बदलाव कर एफिडेविट लेने का प्रावधान किया है और साक्ष्य के ही आधार पर सदस्यता गई है। वोट किसी गठबंधन में नहीं जनता के पास है, जनता का मोदी पर विश्वास है, 2024 में चार सौ से अधिक सीट जीताकर जनता नरेन्द्र मोदी को फिर प्रधानमंत्री बनाएगी।

गिरिराज सिंह ने कहा कि आखिर जनता क्यों नहीं नरेन्द्र मोदी को प्रधानमंत्री बनाएगी। मोदी ने साढ़े 13 करोड़ गरीबों को गरीबी रेखा से ऊपर किया गया। राहुल गांधी बताएं कि 75 साल में कांग्रेस ने शौचालय नहीं दिया, आज दस करोड़ से अधिक गरीबों को शौचालय मिला, सिर्फ शौचालय नहीं इज्जत है। पांच किलो अनाज, अनाज नहीं गरीब कल्याण है। नरेन्द्र मोदी ने ट्रक ड्राइवर से गरीबी नहीं सीखा, उन्होंने गरीबों में जिया है, इसलिए गरीबों के लिए काम कर रहे हैं।

गिरिराज सिंह ने कहा कि आईएनडीआईए गठबंधन द्वारा उत्तर भारतीय और हिंदी भाषी राज्यों को गोमूत्र का राज्य कहा जाता है। उत्तर भारत और दक्षिण भारत में बांटने की कोशिश हो रही है। जबकि, दक्षिण भारत के निवासी शंकराचार्य ने पूरे देश को एक करने का काम किया था। आज आईएनडीआईए गठबंधन उस देश को बांट रही है। तेलंगाना में कांग्रेस के नए मुख्यमंत्री रेवंत रेड्डी ने बिहारी डीएनए का अपमान किया।

लेकिन इस अपमान को लेकर लालू यादव और नीतीश कुमार की जुबान नहीं खुल रही है। 2010 में नरेन्द्र मोदी जी के खिलाफ डीएनए की परीक्षा देने वाले और नाखून कटवाने की बात कर रहे लोगों को आज सांप सूंघ गया है, मुंह में बर्फ जम गया है। बिहार का अपमान नीतीश कुमार और लालू यादव सुनें। लेकिन इसके लिए कांग्रेस सहित इंडिया गठबंधन के सभी को जवाब देना होगा कि बिहार के अपमान पर हुए चुप क्यों है।

कॉरपोरेट सेक्टर को स्वयं प्रेरित होकर देश के उत्थान में योगदान देना चाहिए: राजनाथ

मुंबई
 रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने इस बात पर जोर दिया कि कॉरपोरेट क्षेत्र को देश के उत्थान में योगदान देने के लिए स्वयं प्रेरित होना चाहिए।
सिंह बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में संपन्न सीएसआर जर्नल उत्कृष्टता पुरस्कार वितरण समारोह के अवसर पर बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि सामाजिक जिम्मेदारी किसी भी कर का भुगतान करने से अलग है जो कानूनी रूप से बाध्यकारी है। जब हम कोई टैक्स देते हैं तो समाज हमसे नहीं जुड़ा होता है, जब कई लोग देश के कल्याण में मदद करते हैं तो समाज हमसे जुड़ा होता है।

इस अवसर पर सांस्कृतिक कार्य मंत्री सुधीर मुंग एंटीवार, द सीएसआर जर्नल एक्सीलेंस के अमित उपाध्याय, प्रसिद्ध कवि कुमार विश्वास, पूर्व केंद्रीय सूचना आयुक्त उदय माहुरकर सहित अन्य गणमान्य लोग उपस्थित थे।

सिंह ने कहा कि मनुष्य एक सामाजिक प्राणी है। परस्पर निर्भरता के बंधनों को तोड़ा नहीं जा सकता। अगर आप मुसीबत के समय किसी व्यक्ति की मदद करते हैं तो इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि वह व्यक्ति कितनी दौलत से मदद कर रहा है। ऐसे में यह देखा जाता है कि किस व्यक्ति ने तुरंत मदद की। समाज में भाईचारे और मदद की भावना होनी चाहिए।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *