Thursday, February 9

झारखंड पुलिस को छत्तीसगढ़ की पुलिस से कर्तव्यनिष्ठा सीखना चाहिए – छग सराफा

झारखंड पुलिस को छत्तीसगढ़ की पुलिस से कर्तव्यनिष्ठा सीखना चाहिए – छग सराफा


रायपुर
हाईटेक के जमाने में झारखंड पुलिस के द्वारा छत्तीसगढ़ पुलिस को घंटों इंतजार कराना कर्तव्य एवं जिम्मेदारी के प्रति लापरवाही दशार्ता है। उक्त बातें छत्तीसगढ़ सराफा एसोसियेशन के अध्यक्ष – अनिल बरडि?ा, महामंत्री नरेन्द्र दुग्गड़, कोषाध्यक्ष सुरेश भंसाली ने कहीं। उन्होंने कहा कि गुढि?ारी के नवकार ज्वेलर्स में हुई चोरी के मामले में छग पुलिस झारखंड गई हुई थी और वहां की पुलिस ने सोने-चांदी के साथ दो आरोपियों को गिरफ्तार किया था जिन्हें रिमांड में लेकर रायपुर लाने के लिए टीम गई हुई थी।

अनिल बरडि?ा ने बताया कि झारखंड पुलिस का छत्तीसगढ़ की पुलिस के साथ अच्छा व्यवहार नहीं था, पहचान पत्र आदि को भी महत्व न देते हुए 8-9 घंटे इन्तजार  में बिता दिया गया, ऐसी हरकत समझ से परे है, ऐसी स्थिति में  वहां की कार्यवाही पर विश्वास नहीं किया जा सकता।  उनकी जिम्मेदारी, कर्तव्य परायणता एवं उनके कार्य में दायित्व बोध का अभाव दिखता है। झारखंड पुलिस का ईमानदार सहयोग अगर छत्तीसगढ़ पुलिस को मिलता तो अन्य आरोपी एवं चोरी का पूरा माल बरामद हो सकता था।

पिछले कुछ माह से छत्तीसगढ़ में सराफा दुकानों को टारगेट किया गया था। अम्बिकापुर, धमतरी, रायगढ़, जगदलपुर, रायपुर आदि जगहों पर घटनाएं हुई है। चोरो को पकड़कर माल भी बरामद किया गया है। रायपुर एसपी प्रशांत अग्रवाल के आनें के पश्चात् प्रशासन चुस्त हुआ है। एसपी प्रशांत अग्रवाल लगातार अपनी सक्रियता के साथ अपने अंदाज में सुधार हेतु प्रयासरत नजर आ रहे है।

छत्तीसगढ़ सराफा एसोसियेशन ने अध्यक्ष अनिल बरडि?ा के नेतृत्व में आपसे टिकरापारा पुलिस थाना रायपुर में सौजन्य मुलाकात की थी, शुभकामनांए दी थी, साथ ही साथ 2021 की सबसे बड़ी चोरी नगीना जेम्स रायपुर की घटना को सुलझाने का निवेदन किया था। उपरोक्त घटना को तीन माह हो चुके है। हमें पूर्ण विश्वास है कि रायपुर एस.पी. प्रशांत अग्रवाल के नेतृत्व मे नगीना जेम्स की घटना का भी समाधान होगा। चोरी गये सामान बरामद कर पीड़ित परिवार को राहत प्रदान की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.