Friday, February 23

प्राइवेट कॉलेजों के प्राचार्य और स्टाफ का न्यूनतम वेतन तय, समूह ग के कर्मचारियों को मिलेंगे 17 हजार रुपये

प्राइवेट कॉलेजों के प्राचार्य और स्टाफ का न्यूनतम वेतन तय, समूह ग के कर्मचारियों को मिलेंगे 17 हजार रुपये


प्रयागराज 
प्रयागराज के प्रो. राजेंद्र सिंह (रज्जू भैया) विश्वविद्यालय से संबद्ध निजी कॉलेजों में कार्यरत प्राचार्य, शिक्षक व कर्मचारियों के लिए राहत भरी खबर है। अब निजी कॉलेजों में कार्यरत शिक्षक और कर्मचारियों को निश्चित वेतन का लाभ मिलेगा। विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार एसके शुक्ल ने निजी कॉलेज प्रबंधकों को पत्र जारी कर नए शैक्षिक सत्र 2021-22 में न्यूतम वेतनमान सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है।   रजिस्ट्रार की ओर से जारी पत्र के अनुसार प्रदेश शासन के निर्देशानुसार कार्य परिषद की बैठक में निर्णय लिया गया है कि विश्वविद्यालय से संबद्ध अशासकीय अनुदानित महाविद्यालयों में संचालित स्ववित्तपोषित पाठ्यक्रमों में तथा कार्यरत शिक्षकों एवं शिक्षणेत्तर कर्मियों का वेतन मानक के अनुसार निर्धारित किया जाए। प्राचार्य को न्यूनतम 30 हजार, शिक्षक को 25 हजार, समूह ग व घ के कर्मचारियों का क्रमश: 17 व आठ हजार रुपये प्रति माह वेतन दिया जाए। रजिस्ट्रार की ओर से जारी चिट्टी में कॉलेज प्रबंधकों व प्राचार्यो से कहा गया है कि शैक्षिक सत्र 2021-22 में तय वेतनमान लागू कर सूचित करें। 

613 निजी कालेजों को मिलेगी राहत 
प्रो. राजेंद्र सिंह (रज्जू भैया) विश्वविद्यालय से मंडल के 638 महाविद्यालय संबद्ध हैं। इसमें से 25 राजकीय एवं शासकीय कॉलेज हैं। 613 निजी कॉलेज हैं। न्यूनतम वेतमान लागू होने से 613 निजी कॉलेज के प्राचार्य, शिक्षक और कर्मचारी को आर्थिक रुप राहत मिलेगी।  प्रो. अखिलेश कुमार सिंह, कुलपति, पीआरएसयू कहते हैं कि शासन के निर्देशानुसार निजी कॉलेज प्रबंधकों को पत्र लिखकर न्यूनतम वेतनमान लागू करने का निर्देश दिया गया है। इससे कॉलेजों में कार्यरत शिक्षक व कर्मचारियों को सम्मान वेतन मिल सकेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *