Tuesday, February 7

सड़क पर खड़े हो रहे वाहनों के कारण खाली पड़ी मल्टीलेवल पार्किंग

सड़क पर खड़े हो रहे वाहनों के कारण खाली पड़ी मल्टीलेवल पार्किंग


भोपाल
नगर निगम भोपाल द्वारा पार्किंग के ठेके होने के बाद से राजधानी में एक बार फिर पार्किंग माफिया सक्रिया हो गया है। शहर के करीब 150 स्थानों पर वाहन चालकों से अवैध पार्किंग वसूली जा रही है।  शहर के विभिन्न क्षेत्रों में यह अवैध पार्किंग वसूली कोई और नहीं करवा रहा बल्कि क्षेत्रीय छुटभैया नेता के रखे गए कर्मचारी कर रहे हैं।

यह देख कर भी नगर निगम के जिम्मेदार अफसर अवैध पार्किंग वसूली पाइंट पर एक्शन नहीं ले रहे। वजह साफ है यहां से उन्हें मोटा कमीशन मिल रहा है। ज्ञात हो कि कुछ समय पहले ही  शहर में पार्किंग वसूली के लिए दिल्ली और मुंबई की दो कंपनियों से 3 साल का हाल ही में एग्रीमेंट हुआ है। इसके बाद से पार्किंग के नाम पर जगह-जगह लोग लाल-पीली पर्ची लेकर अवैध वसूली करने लगे हैं।

यहां अवैध पार्किंग

एमपी नगर, कोलार, न्यू मार्केट, ओल्ड सिटी, जवाहर चौक, रोशनपुरा, ओल्ड सिटी, बैरागढ़, होशंगाबाद रोड, टीटी नगर, करोंद आदि क्षेत्र के विभिन्न इलाकों में अवैध पार्किंग वसूली का अड्डा बन चुके हैं। जानकारी निगम के क्षेत्रीय अफसरों को बाखूबी है।  

शोपीस बनी मल्टीलेवल पार्किंग

एमपी नगर और न्यू मार्केट की मल्टीलेवल पार्किंग शोपीस बनकर रह गई है। सड़क पर अवैध पार्किंग वसूली के कारण मल्टीलेवल पार्किंग में 80 फीसदी लोग अपने वाहन खड़े नहीं करते हैं। इससे निगम को रोजाना लाखों रुपयों का नुकसान हो रहा है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.