Thursday, February 9

चुनाव प्रचार के आखिरी दिन कमलनाथ ने भाजपा सरकार को बताया किसान विरोधी

चुनाव प्रचार के आखिरी दिन कमलनाथ ने भाजपा सरकार को बताया किसान विरोधी


भोपाल। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने उपचुनाव के अंतिम दिन प्रदेश सरकार पर किसान विरोधी होने का आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार ने किसानों को भगवान भरोसे छोड़ दिया है। प्रदेश में खाद का संकट भयावह होता जा रहा है और प्रदेश सरकार कुछ नहीं कर रही है।

कमलनाथ ने कहा कि खुद को किसान हितैषी बताने वाली भाजपा सरकार के राज में खाद का संकट भयावह हो गया है। किसान एक-एक बोरी के लिए परेशान हो रहा है। हर दिन सड़क पर प्रदर्शन करना पड़ रहा है, फिर भी खाद की काला बाजारी नहीं रुक रही है। बुंदेलखंड, महाकौशल, विंध्य, ग्वालियर-चंबल संभाग में खाद का भारी संकट है। इस सरकार ने किसानों को भगवान भरोस छोड़ दिया है। खाद के संकट वाले क्षेत्रों में अभी चुनाव नहीं है इसलिए सरकार का उन क्षेत्रों पर ध्यान नहीं है।

गुर्जर को संभालने का प्रयास
विधायक सचिन बिरला के कांग्रेस छोड़कर भाजपा में जाने के बाद खंडवा लोकसभा क्षेत्र के गुर्जर समाज के लोगों को अपनी ओर करने के लिए आज सचिन पायलट इस क्षेत्र में सभा करने के लिए आए हुए हैं। इसलिए यह सभा भी सचिन बिरला के विधानसभा क्षेत्र बड़वाह के सनावद में ही रखी गई है। इस सभा में कमलनाथ भी शामिल हुए। नाथ ने कहा कि भाजपा सरकार की हकीकत आज कल प्रदेश के सभी किसान देख रहे हैं। मुख्यमंत्री हर दिन झूठी घोषणांए करते हैं, झूठे सपने दिखाते हैं बाकी प्रदेश की स्थिति सब लोग देख ही रहे हैं। इनकी 17 साल की सरकार के बाद किसानों को बोवनी के लिए खाद नहीं मिल पा रहा है। बिजली महंगी कर दी गई, युवाओं को रोजगार नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.