Thursday, July 25

दो रिटायर्ड IAS में 5 फीट जमीन के टुकड़े को लेकर बवाल

दो रिटायर्ड IAS में 5 फीट जमीन के टुकड़े को लेकर बवाल


भोपाल

भोपाल में दो रिटायर्ड आईएएस अफसरों के बीच महज 5 फीट जमीन के टुकड़े को लेकर बवाल हो गया। मामला थाने तक पहुंच गया। दोनों पक्षों ने एक-दूसरे पर गंभीर आरोप लगाए। विवाद रिटायर्ड आईएएस सभाजीत यादव व बी. राजगोपाल नायडू के बीच हुआ है।दोनों की जमीनें रातीबड़ में आसपास लगी हैं। रातीबड़ थाना प्रभारी सुधेश तिवारी ने बताया कि दोनों पक्षों के शिकायती आवेदन की जांच की जा रही है। जांच के बाद ही कार्रवाई की जाएगी।

बहू-बेटी पर जेसीबी चढ़ाने की कोशिश

रिटायर्ड आईएएस सभाजीत यादव की पत्नी शोभना ने पुलिस को दिए आवेदन में बताया कि 20 अक्टूबर की सुबह 9 बजे जन अभियान परिषद के महानिदेशक बी. राजगोपाल नायडू (रिटायर्ड आईएएस), निवेदिता नायडू (कमाडेंट, 25 बटालियन), सत्यनारायण नायडू व बीएस राव बिना नंबर की जेसीबी लेकर मेरे गेट के पास पहुंचे। इसके बाद गेट, एक पिलर जेसीबी से तुड़वा दिया। यही नहीं, 8 फीट सड़क भी जेसीबी से खुदवा दी। दोपहर में बीआर नायडू की पत्नी जमुना बोलिनेनी हमारे किचन के पास मौजूद सड़क तोड़ने लगीं, तो बेटी अनुश्री और बहू मेघा यादव ने रोकने की कोशिश की। इस पर जेसीबी का चालक रवि ने उन पर जेसीबी चढ़ाने का प्रयास किया।

 

 

 

 

 

 

चूनाभट्टी के कंफर्ट शालेट में रहने वाले रिटायर्ड आईएएस बी. राजगोपाल नायडू ने पुलिस को बताया उनकी सेवनियां गांव में जमीन है। जमीन पत्नी जमुना और दो बेटियों (ज्योति, निवेदिता) के नाम पर है। जमीन के पास ही पूर्व आइएएस अधिकारी सभाजीत यादव रहते हैं। नायडू ने दावा किया कि यादव ने मेरी भूमि पर किचन बना लिया है। यही नहीं, बेटी निवेदिता पर जमीन बेचने के लिए यादव ने दबाव बनाया। जब इंकार कर दिया, तो उसके खिलाफ झूठी शिकायत करने लगे।

नायडू ने बताया कि सभाजीत व उनकी पत्नी झगड़ालू प्रवृत्ति की हैं। बात-बात पर विवाद करने लगते हैं। 7 सितंबर को जमीनी विवाद को लेकर शिकायत टीटी नगर तहसीलदार से की गई थी। 28 सितंबर को टीएनसीपी ने निर्माण कार्य का निरीक्षण भी किया। निर्माण नहीं करा सकूं, इसलिए यादव झूठी शिकायत कर रहे हैं। मुझे पुलिस सुरक्षा उपलब्ध कराई जाए। बी. आर नायडू के बेटी निवेदिता और दामाद रजत सकलेचा आईपीएस हैं। इस समय बेटी भोपाल में एसएएफ में कमांडेंट है, जबकि दामाद रजत गुना में एसएएफ में हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *