Friday, February 3

भाजपा 35 साल का और 17 साल का हिसाब रैगांव को शिवराज दे -कमलनाथ

भाजपा 35 साल का और 17 साल का हिसाब रैगांव को शिवराज दे -कमलनाथ


सतना

शिवराज की सभा में लाई हुई सरकारी भीड़ होती है, लेकिन हमारी इस सभा में आई हुई भीड़ है। जब मैं सीएम था, तब भी भीड़ लाई जाती थी, मुझे पता है। शिवराज से कहता हूं कि 35 साल रैगांव ने आपका साथ दिया है, भाजपा, 35 साल का और 17 साल का हिसाब रैगांव को दे दीजिए। बरगी का पानी नहीं आया। 17 साल से आप घोषणाएं करते हैं, माफी तो मांग लेते। आपको बता दूं कि चुनाव हो जाएगा, लेकिन पानी नहीं आएगा। शिवराज मुझसे हिसाब मांगते हैं, मैं देने को तैयार हूं, लेकिन वो भी जवाब दें। बरगी का पानी इसलिए नहीं आया, क्योंकि भ्रष्टाचार था, ठेकेदारों से सांठगांठ थी।

शिवराज अब तक 22 हजार घोषणएं कर चुके
शिवराज ने सिर्फ घोषणाएं की, अब तक 22 हजार घोषणाएं की हैं। लेकिन अब वो जनता को मूर्ख नहीं बना सकते। हम कृषि क्षेत्र में, युवाओं को रोजगार के क्षेत्र में क्रांति लाना चाहते थे। नौजवान देश का भविष्य है। आप कांग्रेस या कमलनाथ का नहीं सच्चाई का साथ 30 तारीख को दीजिए। कौन सी चीज ऐसी है जिसमें महंगाई नहीं है। ये तस्वीर आपके सामने है, आप इसे सामने रख के वोट दीजिएगा। आपका वोट मप्र का भविष्य बनाएगा। मोदी जी राष्ट्रवाद का पाठ पढ़ाते हैं, जबकि उनकी पार्टी में एक भी स्वतंत्रता सेनानी नहीं है।

नाक का सवाल बनी रैगांव सीट
सतना की रैगांव विधानसभा सीट दाेनाें ही दलाें के लिए नाक का सवाल बनती नजर आ रही है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान तो पिछले डेढ़ महीने में यहां 8 बार आ चुके हैं। वहीं, पूर्व सीएम कमलनाथ का भी 10 दिनों में शनिवार को दूसरा दौरा रहा। शिवराजपुर की चुनावी सभा के मंच पर पूर्व सीएम कमलनाथ, राज्यसभा सांसद राजमणि पटेल, विधायक सिद्धार्थ कुशवाहा, नीलांशु चतुर्वेदी, नरेश सर्राफ, पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह राहुल, पूर्व विधायक यादवेंद्र सिंह, प्रभारी अजय टंडन, कांग्रेस जिलाध्यक्ष दिलीप मिश्रा और कांग्रेस प्रत्याशी कल्पना वर्मा भी मौजूद रहीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.