Friday, February 3

शोभा राम राय को किया गया सितम्बर माह के मैन ऑफ द मंथ अवार्ड से सम्मानित

शोभा राम राय को किया गया सितम्बर माह के मैन ऑफ द मंथ अवार्ड से सम्मानित


इलाहाबाद
महाप्रबंधक, उत्तर मध्य रेलवे, प्रमोद कुमार ने कर्मचारियों को उनकी ट्रेन संचालन में संरक्षा के प्रति सतर्कता और उल्लेखनीय योगदान के लिए पुरस्कार प्रदान किए। उत्तर मध्य रेलवे मुख्यालय में आयोजित साप्ताहिक संरक्षा एवं समयपालन बैठक के दौरान आयोजित पुरस्कार समारोह में रंजन यादव, अपर महाप्रबंधक, मनीष कुमार गुप्ता, प्रधान मुख्य संरक्षा अधिकारी सहित उत्तर मध्य रेलवे के प्रमुखविभागाध्यक्षों तथा आगरा, झांसी और प्रयागराज मंडलों के मंडल रेल प्रबंधकों  ने अपने मंडलों के अधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से भाग लिया।

इस अवसर पर महाप्रबंधक द्वारा 05 रेल कर्मचारियों को संरक्षा पुरस्कार प्रदान किए गए। पुरस्कृत कर्मचारियों में रवि कुमार, पॉइंट्समैन, बिरोही, प्रयागराज मंडल, गामा, कीमैन, मिर्जापुर, प्रयागराज मंडल, अशोक कुमार, ट्रैक मेंटेनर- IV पलवल, आगरा मंडल, रामकिशन, तकनीशियन- I (कैरिज और वैगन) मथुरा जं, आगरा मंडल एवं शोभा राम राय, मुख्य लोको निरीक्षक, झांसी, झांसी मंडल शामिल थे।

शोभा राम राय को सितंबर महीने के लिए "मैन ऑफ द मंथ" का पुरस्कार प्रदान किया गया । ज्ञात हो कि दिनांक 24.09.2021 को ट्रेन नंबर 02716 सचखंड एक्सप्रेस पर फुट प्लेट निरीक्षण के दौरान, उन्होंने धौलपुर स्टेशन पर लगेज-वैन के नीचे फंसी एक जॉगल प्लेट (रेल में वेल्ड को सुरक्षित करने के लिए प्रयुक्त उपकरण) को देखा। उन्होंने मुरैना स्टेशन पर अन्य कर्मचारियों की सहायता से इसे हटा दिया और आगे ट्रेन का सुरक्षित संचालन सुनिश्चित किया। इसी क्रम में महाप्रबंधक महोदय ने श्री शोभाराम राय जी की धर्म पत्नी को इस संबंध में पत्र लिखकर अभार व्यक्त किया।  

बैठक के दौरान श्री प्रमोद कुमार ने कानपुर के निकट अंबियापुर में मालगाड़ी के पटरी से उतरने की घटना और उसके बाद रिस्टोरेशन में लगने वाले समय पर संज्ञान लेते हुए कहा कि इस घटना से आवश्यक सबक सीखा जाए और उचित सुधारात्मक कार्रवाई सुनिश्चित की जाए। रिस्टोरेशन के बारे में बात करते हुए, महाप्रबंधक ने कर्मचारियों की क्षमताओं को विकसित करने और ऐसी दुर्घटनाओं के दौरान रिस्टोरेशन के लिए प्रतिक्रिया समय को कम करने के लिए बार-बार मॉक ड्रिल करने की आवश्यकता पर बल दिया। महाप्रबंधक  ने कर्मचारियों के नियमित प्रशिक्षण की आवश्यकता पर भी जोर दिया।

श्री रंजन यादव, अपर महाप्रबंधक /उत्तर मध्य रेलवे ने इंजनों में प्रेशर में अचानक गिरावट से संबंधित मामलों के उचित विश्लेषण की आवश्यकता पर बल दिया, ताकि इसके फलस्वरूप समयपालनता पर पड़ने वाले पर प्रतिकूल प्रभाव का समाधान हो सके।

महाप्रबंधक ने बैठक का समापन करते हुए सभी अधिकारियों से कहा कि वे अपने अधीन कर्मचारियों को उनकी योग्यता के अनुसार उन्हें और उनके परिवार के सदस्यों को कोरोना वैक्सीन की दूसरी खुराक का टीका लगवाने के लिए प्रेरित करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.