Saturday, February 4

घर में गंगाजल रखते समय रखें सावधानियां

घर में गंगाजल रखते समय रखें सावधानियां


हिंदू धर्म में गंगा नदी को बहुत पवित्र माना गया है. हर खास मौके पर गंगा नदी में स्‍नान करने के अलावा पूजा घर में भी गंगाजल रखा जाता है. हिंदू धर्म के अधिकांश अनुयायिओं के घर में गंगाजल होता है. गंगाजल पापों को धोने वाला और सारे कष्‍टों को दूर करने वाला है इसलिए गंगा नदी में स्‍नान करने या गंगाजल मिले पानी से नहाना बहुत अहम माना गया है. पूजा-पाठ के अलावा शुभ कार्यों में भी गंगाजल का उपयोग होता है.

घर में गंगाजल रखने से घर की नकारात्‍मकता दूर होती है और सकारात्‍मकता का संचार होता है. लेकिन गंगाजल को रखने का सही तरीका जानना बहुत जरूरी है. इसके लिए कुछ जरूरी बातों का हमेशा ध्‍यान रखें.

– गंगाजल को हमेशा साफ-सुथरी जगह पर रखें. उसके आसपास कोई अशुद्ध चीजें न रखें. सबसे अच्‍छा है कि गंगाजल को पूजा घर में रखें और उसकी नियमित सफाई करते रहें.
– गंगाजल बहुत पवित्र होता है और उसे शुद्ध धातु में बने पात्र में ही रखना चाहिए. इसके लिए तांबे या चांदी के बर्तन सर्वश्रेष्‍ठ होते हैं. गंगाजल को कभी भी प्लास्टिक की बोतल में रखने की गलती न करें.
– गंगाजल को कभी भी गंदे हाथों से न छुएं. हमेशा हाथ धोकर ही गंगाजल को छुएं.
– गंगाजल का उपयोग करते समय गंगा मां का ध्‍यान करें. खास कर गंगाजल से नहाते समय ऐसा जरूर करें.
– गंगाजल को ईशान कोण में रखें. पवित्र नदियों का जल हमेशा ईशान कोण में ही रखना चाहिए.
– गंगाजल को कभी भी अंधेरे में न रखें. रात में भी वहां धीमी रोशनी जरूर रखें. ना ही गंगाजल को अलमारी में बंद करके रखें.
– हफ्ते में एक बार नहा-धोकर पूरे घर में गंगाजल का छिड़काव जरूर करें. इससे पॉजिटिव एनर्जी बढ़ती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.