Thursday, February 9

ग्राम मझेरा में टीबी जांच एवं उपचार शिविर मरीजों की जांच कर आवश्यक परामर्श दिया

ग्राम मझेरा में टीबी जांच एवं उपचार शिविर मरीजों की जांच कर आवश्यक परामर्श दिया


फोटो-23 पी पी 6
शिवपुरी। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.पवन जैन की उपस्थिति एवं मार्गदर्शन में ग्राम मझेरा में टीबी जांच एवं उपचार शिविर शनिवार को आयोजित किया गया। इस शिविर में जिला क्षय अधिकारी डॉ.आशीष व्यास एवं राष्ट्रीय क्षय उन्मूलन कार्यक्रम के अंतर्गत कार्यरत कर्मचारियों की टीम के द्वारा ग्राम ताल मझेरा, मझेरा, आमदांड कॉलोनी मझेरा का भ्रमण किया गया।

भ्रमण के दौरान इन शिविरों में आंगनबाड़ी कार्यकर्ता श्रीमती सीमा गुर्जर, आशा कार्यकर्ता श्रीमती अंगूरी राठौर, सरपंच इंदरसिंह गुर्जर, सचिव नीलेश दुबे तथा सामाजिक कार्यकर्ता मझेरा रामसिंह आदिवासी, राजा आदिवासी विशेष रूप से उपस्थित रहें। पेंशन्ट प्रोवाइडर सपोर्ट एजेंसी दीपक फाउंडेशन के कमल किशोर बाथम, हरिकिशन प्रजापति तथा अक्षयप्लस एल.टी.बी.आई के अरविंद कुशवाह तथा प्रभारी एसटीएस एवं एसटीएलएस इन्द्रकुमार गुप्ता का विशेष योगदान रहा। तालमझेरा में 15 मरीजों का टीण्बी की बीमारी एवं खांसी बुखार इत्यादि के लिये परीक्षण किया गया। इनके खखार जांच हेतु दूनेट मशीन के लिये फेलकॉन ट्यूब में सेम्पल लिये गये तथा एक गंभीर टीबी का मरीज मुकेश आदिवासी जिसका पूर्व से डॉट्स पद्धति से इलाज चल रहा था, उसका परीक्षण कर खांसी एवं श्वांस की दवा प्रदान की गई। ग्राम में एक गले में गठान की टीबी से पीडि़त मरीज श्रीमती चन्दा आदिवासी, पलनी सुरेश आदिवासी की जांच की गई वो एक माह से डॉट्स ले रही थी उसकी गठाने ठीक होना शुरू हो चुकी हैं। इस प्रकार वर्तमान में कुल 03 मरीज टी.बी.की बीमारी का डॉट्स पद्धति से उपचार ले रहे हैं तथा उनके स्वास्थ्य में सुधार है। इनके घर के सदस्यों की भी जांच की गई और उनको बताया गया कि हमेशा मूँह पर हाथ या कपड़ा रखकर खांसे तथा इधर.उधर धूंकने से बचें। सभी ग्रामवासियों को शराब, नशीली वस्तुओं के सेवन से दूर रहने की सलाह भी जिला क्षय अधिकारी डॉ.आशीष व्यास द्वारा दी गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published.