Saturday, November 26

खुशखबरी कोवैक्सीन की शॉट 77.8% प्रभावकारी-The Lancet

खुशखबरी कोवैक्सीन की शॉट 77.8% प्रभावकारी-The Lancet


नई दिल्ली
 कोरोना (Covid-19) से लड़ाई लड़ रहे भारत के लिए खुशखबरी है। देसी वैक्सीन कोवैक्सीन (Covaxin) को प्रतिष्ठित मेडिकल जर्नल द लैंसेट (The Lancet) ने कोविड-19 के खिलाफ काफी प्रभावकारी बताया है। सरकार की चिकित्सा अनुसंधान एजेंसी आईसीएमआर (ICMR) और भारत बायोटेक इंटरनेशनल लिमिटेड (Bharat BioTech) द्वारा विकसित वैक्सीन कोवैक्सिन पर द लैंसेट में प्रकाशित रिसर्च में कोविड -19 के खिलाफ 77.8% प्रभावकारिता दर पाई गई थी। मेडिकल जर्नल ने एक बयान में कहा कि कोवैक्सिन की दो डोज दिए जाने के दो सप्ताह बाद "एक मजबूत एंटीबॉडी प्रतिक्रिया उत्पन्न करता है"।

24,419 लोगों पर किया गया ट्रायल

मेडिकल जर्नल ने कहा कि भारत में नवंबर 2020 और मई 2021 के बीच 18-97 वर्ष की आयु के 24,419 प्रतिभागियों को शामिल करने वाले ट्रायल के दौरान कोई गंभीर-वैक्सीन से संबंधित मौत या प्रतिकूल घटनाएं दर्ज नहीं की गईं।

डेल्टा वेरिएंट पर भी प्रभावी

द लैंसेट ने भारत बायोटेक की कोवैक्सीन के फेज तीन का डेटा जारी किया है। इसके मुताबिक, भारत की देसी वैक्सीन न सिर्फ कोविड-19 के खिलाफ सुरक्षित और असरदार है, बल्कि यह डेल्टा वेरिएंट (delta variant) के खिलाफ भी 65.2 फीसदी असरदार है। इतना ही नहीं, गंभीर सिम्टोमेटिक कोविड-19 के खिलाफ कोवैक्सीन 93.4 फीसदी असरदार है।

काफी इंतजार के बाद डब्ल्यूएचओ ने शामिल किया लिस्ट में

भारत में निर्मित होने वाली भारत बायोटेक की कोवैक्सीन को विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organisation) ने काफी इंतजार के बाद अप्रूवल दिया है। इस अप्रूवल के बाद इस वैक्सीन का शॉट लेने वालों को विश्व के अन्य देशों में यात्रा करने में सहूलियतें मिलेंगी साथ ही वैक्सीन दूसरे देशों को भी निर्यात हो सकेगी। वैक्सीन डब्ल्यूएचओ (WHO) की इमरजेंसी अप्रूवल लिस्ट में शामिल हो चुका है। साथ ही इसके इस्तेमाल को अब तक 17 देशों ने मंजूरी दे दी है। इस तरह से कोवैक्सीन, विश्व स्वास्थ्य द्वारा अनुमोदित सूची में फाइजर/बायोएनटेक, मॉडर्न, एस्ट्राजेनेका, जॉनसन एंड जॉनसन, सिनोफार्म और सिनोवैक द्वारा निर्मित एंटी-कोविड टीकों की लिस्ट में शामिल हो गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.