Wednesday, April 17

उपार्जित धान कैप कव्हर से ढक कर सुरक्षित रखा गया है

उपार्जित धान कैप कव्हर से ढक कर सुरक्षित रखा गया है


राजनांदगांव
जिले में असामयिक वर्षा से धान की सुरक्षा के लिए सभी धान उपार्जन केन्द्रों में धान को कैप कव्हर से ढक कर रखा गया है। आकस्मिक वर्षा से धान को किसी प्रकार की क्षति जिले में नहीं हुई है। कलेक्टर श्री तारन प्रकाश सिन्हा के मार्गदर्शन में 7 फरवरी 2022 तक 1 लाख 96 हजार 035 किसानों से 82 लाख 51 हजार 270 क्विंटल धान की खरीदी की गई है। प्रदेश में सर्वाधिक धान खरीदी राजनांदगांव जिले में की गई। जिले में धान खरीदी के तहत उपार्जित किए गए 8251270 क्विंटल धान में से जिले के राईस मिलर्स द्वारा 2123411 क्विंटल तथा परिवहनकर्ताओं के माध्यम से 2790514 क्विंटल धान का उठाव कर संग्रहण केन्द्रों में संग्रहित किया गया है। इस प्रकार उपार्जन केन्द्रों से अब तक 4913925 क्विंटल लगभग 60 प्रतिशत धान का उठाव कर लिया गया है। जिला प्रशासन द्वारा धान खरीदी के लिए चाक-चौबंद व्यवस्था की गई है।

    कलेक्टर श्री सिन्हा द्वारा उपार्जित धान का भौतिक सत्यापन संपूर्ण जिले में राजस्व, खाद्य एवं सहकारिता विभाग के अधिकारियों के माध्यम से कराया गया है। जिले में अधिकारियों द्वारा सतत भ्रमण कर धान खरीदी केन्द्रों का निरीक्षण किया जा रहा है तथा डीओ एवं टीओ के माध्यम से धान का उठाव निरंतर कराया जा रहा है। जिले के उपार्जन केन्द्रों से संपूर्ण धान उठाव का लक्ष्य 15 मार्च 2022 निर्धारित किया गया है। किसानों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए पेयजल, छांव तथा अन्य व्यवस्था की गई। धान खरीदी महाअभियान के दौरान किसानों में खुशी रही। वहीं शासन द्वारा 7 फरवरी तक धान खरीदी की तिथि बढ़ाए जाने से हर्ष व्याप्त रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *