Saturday, April 20

मेडिकल कॉलेज की मान्यता लेने ,मजदूरों को मजदूरी और खाने का लालच देकर अस्पताल में भर्ती किया

मेडिकल कॉलेज की मान्यता लेने ,मजदूरों को मजदूरी और खाने का लालच देकर अस्पताल में भर्ती किया


   लखनऊ
 
    लखनऊ के थाना ठाकुरगंज में एक अजीबो-गरीब मामला सामने आया है. दरअसल, यहां 100 मजदूरों को मजदूरी और खाने का लालच देकर अस्पताल में भर्ती कर दिया गया. उनका इलाज किया जाने लगा. लेकिन मजदूरों ने हंगामा करना शुरू कर दिया. इसके बाद तत्काल प्रभाव से मौके पर मेडिकल टीम पहुंची. साथ ही पुलिस को सूचना दी गई. पुलिस और सीएमओ की टीम ने सभी मजदूरों को रेस्क्यू कराकर एमसी सक्सैना मेडिकल कॉलेज के खिलाफ मुकदमा कर लिया है. साथ ही मेडिकल कॉलेज के हेड को गिरफ्तार कर लिया गया है.

पीड़ित मजदूरों के मुताबिक, हमारे पास एक व्यक्ति आया था, उसने हमें खाने और दिहाड़ी का लालच दिया. इसके बाद हम लोग अस्पताल पहुंचे. जहां खाने को दलिया दिया और बेड पर लेटने को कहा गया. साथ ही बताया गया कि डॉक्टर देखने आएंगे. आपको बस लेटना है, लेकिन थोड़ी देर बाद इंजेक्शन लगा दिया और वीगो लगा दी. पुलिस की जांच-पड़ताल में सामने आया कि मेडिकल कॉलेज की एफिलेशन लेकर फर्जी मरीजों को तैयार किया गया था.

500 रुपये दिहाड़ी और खाने का दिया लालच
डीसीपी पश्चिम सोमेन वर्मा के मुताबिक एक मजदूर ने शिकायत की कि एमसी सक्सेना ग्रुप ऑफ कॉलेज में कुछ मजदूरों को अलग-अलग जगह से ले जाया गया है. इन्हें 400 से 500 रुपये तक दिहाड़ी के रूप में दिए जाने का लालच दिया गया. साथ ही खाना दिया जाएगा.

पुलिस ने डॉ. शेखर सक्सेना को गिरफ्तार किया
डीसीपी पश्चिम सोमेन वर्मा ने बताया कि ये लोग अवैध रूप से इलाज कर रहे थे. जिन लोगों का इलाज किया जा रहा था, वह पूरी तरह से स्वस्थ थे. पुलिस ने एमसी सक्सेना ग्रुप ऑफ कॉलेज के डॉक्टर शेखर सक्सेना को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस आगे की कार्रवाई कर रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *