Tuesday, February 7

‘अंधेरा होने के बाद कतई न जाएं थाने’, BJP नेता बेबी रानी मौर्य ने महिलाओं को दी नसीहत 

‘अंधेरा होने के बाद कतई न जाएं थाने’, BJP नेता बेबी रानी मौर्य ने महिलाओं को दी नसीहत 


वाराणसी
2022 में उत्तर प्रदेश के अंदर विधानसभा चुनाव होने है। चुनावों से पहले सत्ताधारी पार्टी बीजेपी के नेता ही प्रदेश में महिला सुरक्षा के दावे पर खुद ही सवाल खड़े करते नजर रहे हैं। जी हां…शुक्रवार 22 अक्टूबर को वाराणसी पहुंची भाजपा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और पूर्व राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने महिलाओं को नसीहत दी है कि वो अंधेरा होने के बाद थाने कतई न जाएं। दरअसल, बेबी रानी मौर्य 22 अक्टूबर को वाल्मीकि महोत्सव के कार्यक्रम में शामिल होने वाराणसी पहुंची थी। 

थानों में एक महिला अधिकारी और सब-इंस्पेक्टर जरूर बैठती हैं, लेकिन एक बात मैं जरूर कहूंगी कि शाम 5 बजे अंधेरा होने के बाद थाने कभी मत जाना। अगर जरूरी हो तो अगले दिन सुबह जाना और अपने साथ भाई, पति या पिता को लेकर ही थाने जाना। भाजपा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और पूर्व राज्यपाल बेबी रानी मौर्य कहा कि महिलाओं के लिए योगी सरकार ने बहुत काम किया है। इस वजह से महिलाओं की स्थिति में अब उत्तर प्रदेश में बदलाव दिखता है। प्रदेश की सरकार समाज के सभी वर्गों के लिए लगातार काम किया है और काम कर रही है। इसी वजह से विपक्षी दलों के पास सरकार को घेरने के लिए ठोस मुद्दों का अभाव है। 

खाद का संकट नहीं, अधिकारी कर रहे… वाराणसी में बोलते हुए बेबी रानी मौर्य ने कहा कि यूपी में खाद का संकट नहीं है, लेकिन अधिकारी गुमराह कर रहे है। किसानों को खाद ना मिलने पर उदाहरण देते हुए मौर्य ने कहा, 'अधिकारी सभी को गुमराह करते रहते हैं। मुझे परसो आगरा से एक किसान भाई का फोन आया था। उसे खाद नहीं मिल रही थी। मेरे कहने पर अधिकारी ने कहा कि खाद मिल जाएगी, लेकिन आज उस अधिकारी ने मना कर दिया कि मैं नहीं दूंगा।'
 

Leave a Reply

Your email address will not be published.