Friday, February 23

लखनऊ में 40 करोड़ के 18 जमीनों की करा दी फर्जी रजिस्ट्री 

लखनऊ में 40 करोड़ के 18 जमीनों की करा दी फर्जी रजिस्ट्री 


 लखनऊ 
एलडीए कर्मचारियों और प्रॉपर्टी डीलरों की मिलीभगत से जमीन का एक और बड़ा फर्जीवाड़ा सामने आया है। गोमतीनगर में प्राधिकरण के 40 करोड़ के 18 भूखंडों की फर्जी रजिस्ट्री करा दी। मामले की जानकारी के बाद एलडीए के अफसर सकते में आ गए। सचिव और अपर सचिव ने पूरे प्रकरण की जांच शुरू कर दी है। आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के लिए अफसर मुकदमा दर्ज करने की तैयारी में है। इन सभी की रजिस्ट्री के दस्तावेज जुटाए जा रहे हैं।

गोमती नगर के 13 फर्जी भूखंडों की रजिस्ट्री का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ था कि 18 और भूखंडों की फर्जी रजिस्ट्री का खुलासा हुआ है। इन मामलों ने प्राधिकरण अफसरों के होश उड़ा दिए हैं। फर्जीवाड़े के यह मामले भी पिछले दो वर्षों के भीतर हुए हैं। एक तरफ अधिकारी फर्जीवाड़ा रोकने का फुलप्रूफ इंतजाम करने में लगे हैं, तो दूसरी तरफ भूमाफिया तथा प्रॉपर्टी डीलर बेखौफ फर्जीवाड़े में लगे हैं। जिन 18 नए भूखंडों के फर्जीवाड़े की जानकारी हुई है। ये सभी पॉश इलाके गोमती नगर योजना के हैं।

 आधिकारिक तौर पर एलडीए के पास कोई भूखंड रिक्त नहीं है। यह बात प्राधिकरण अदालत को भी बता चुका है, इसीलिए वह उन आवंटियों के भूखंडों का भी समायोजन नहीं कर रहा है जिनके प्लॉट विवादों में फंसे हैं। प्राधिकरण खुद प्लाट नहीं होने की बात कहता है लेकिन हर महीने उसके दर्जनों भूखंडों की फर्जी रजिस्ट्री हो रही है। सवाल उठता है जब एलडीए के पास भूखंड नहीं हैं तो आखिर यह भूखंड आ कहां से रहे हैं। जो प्रॉपर्टी डीलर इनकी फर्जी रजिस्ट्री करा रहे हैं। एलडीए के किसी अधिकारी के पास इन सवालों के जवाब नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *