Wednesday, April 17

238 रनों का लक्ष्य, वेस्टइंडीज को दूसरा झटका

238 रनों का लक्ष्य, वेस्टइंडीज को दूसरा झटका


भारत और वेस्टइंडीज के बीच तीन वनडे मैचों की सीरीज का दूसरा मुकाबला बुधवार को अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में खेला जा रहा है। दूसरे मैच में विंडीज गेंदबाजों ने शानदार गेंदबाजी करते हुए भारतीय टीम को सीमित स्कोर पर रोक दिया। टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम निर्धारित 50 ओवरों में 9 विकेट खोकर केवल 237 रन ही बना सकी। भारत की ओर से सूर्यकुमार यादव ने सर्वाधिक 64 रन बनाए। इसके दूसरा सर्वश्रेष्ठ स्कोर उपकप्तान केएल राहुल (49 रन) का रहा। 

तेज गेंदबाज प्रसिद्ध कृष्णा ने वेस्टइंडीज टीम को एक के बाद एक दो झटके देते हुए बैकफुट पर धकेल दिया। टीम सात ओवर बिना किसी नुकसान के 31 रन बनाकर अच्छी स्थिति में थी। इसके बाद आठवें ओवर में कृष्णा ने तीसरी गेंद पर ब्रेंडन किंग (18 रन) को पंत के हाथों कैच करववाकर चलता किया। इसके बाद अपने अगले ओवर की पहली ही गेंद पर उन्होंने डेरेन ब्रावो (1 रन) को भी पंत के हाथों ही कैच करवाकर वेस्टइंडीज की शुरुआत खराब कर दी।

पहले वनडे मैच की नाकामी को पीछे छोड़ते हुए विंडीज गेंदबाजों ने इस मैच में शानदार गेंदबाजी की। कैरेबियन बॉलर्स ने नियमित अंतराल में विकेट लेते हुए भारतीय बल्लेबाजों पर दबाव बनाए रखा। लगातार विकेट गिरने के चलते भारतीय बल्लेबाज खुलकर नहीं खेल सके और साधारण स्कोर ही बना सके। गेंदबाजों में अल्जारी जोसेफ और एडेन स्मिथ दो-दो विकेट लेने में कामयाब रहे। वहीं केमार रोच, जेसन होल्डर, हुसैन और एलन एक-एक विकेट लेने में कामयाब रहे। 

उपकप्तान केएल राहुल के आउट होते ही टीम इंडिया फिर से लड़खड़ा गई। 134 के स्कोर पर राहुल (49) आउट हुए, उसके कुछ देर बाद ही सेट बल्लेबाज सूर्यकुमार यादव (64) भी चलते बने। टीम के खाते में 192 रन ही जुड़े थे कि वाशिंगटन सुंदर (24 रन) भी चलते बने। इसके बाद 212 के स्कोर पर ऑलराउंडर शार्दुल ठाकुर (8 रन) टीम को संकट की स्थिति में छोड़कर चलते बने। 224 के स्कोर पर मोहम्मद सिराज (3 रन) भी आउट हो गए। 

सूर्यकुमार यादव ने एक फिर संकट के समय शानदार पारी खेलकर टीम इंडिया की लाज बचाई है। उन्होंने 70 गेंदों में अपने वनडे क्रिकेट करियर का दूसरा अर्धशतक पूरा किया। शुरुआती झटकों के बाद टीम इंडिया परेशानी में दिखाई दे रही थी, ऐसे वक्त में उन्होंने उपकप्तान केएल राहुल के साथ मिलकर टीम को संभाला। 

उपकप्तान केएल राहुल अर्धशतक जमाने से चूक गए। 49 के स्कोर पर खराब तालमेल के चलते वे रनआउट हो गए। राहुल ने 48 गेंदों का सामना कर 49 रन बनाए। इस पारी में उन्होंने 4 चौके और 2 छक्के जमाए। राहुल के आउट होने पर टीम का स्कोर 134 रनों पर चार विकेट हो गया। 

भारतीय क्रिकेट टीम की शुरुआत काफी खराब रही है। 9 रन के स्कोर पर टीम को कप्तान रोहित शर्मा के रूप में पहला झटका लगा। रोहित 8 गेंदों का सामना कर केवल 5 रन ही बना सके। केमारू रोच की गेंद पर उन्हें शाई होप ने कैच किया। दूसरे ओपनर ऋषभ पंत भी ज्यादा कुछ खास कमाल नहीं दिखा सके और 34 गेंदों में 18 रन बनाकर चलते बने। स्मिथ के इसी ओवर की छठी गेंद पर विराट कोहली (18 रन) भी आउट हो गए। 

वेस्टइंडीज टीम ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का निर्णय लिया है। भारतीय टीम में एक बदलाव किया गया है। केएल राहुल की टीम में वापसी हुई है, वहीं युवा विकेटकीपर बल्लेबाज ईशान किशन को बाहर किया गया है। वेस्टइंडीज टीम में कीरोन पोलार्ड चोटिल होने के कारण बुधवार को मैच नहीं खेल रहे हैं। 

विराट कोहली ने अपनी बल्लेबाज से ऐसे उच्च मानक तय कर दिए है कि अब साधारण पारी से उनके फैंस खुश नहीं होते। ऐसा नहीं है कि वे फॉर्म में नहीं हैं लेकिन शतक लगाए उन्हें दो साल से अधिक का समय हो गया है जिसके चलते शतक की चर्चा ज्यादा हो रही है। हालांकि वे एक चैंपियन खिलाड़ी हैं और किसी भी वक्त शतक जमा सकते हैं। 

पिछले मैच में भारतीय गेंदबाजों ने शानदार प्रदर्शन किया था। खासकर स्पिनर्स ने, जिन्होंने कुल 7 विकेट लेकर कैरेबियंस की कमर तोड़कर रख दी थी। युजवेंद्र चहल ने न केवल अपने 100 वनडे विकेट पूरे किए, बल्कि चार विकेट लेकर अपनी उपयोगिता भी दर्शाई। वाशिंगटन सुंदर ने भी 3 विकेट लेकर काफी प्रभावशाली गेंदबाजी की थी। तेज गेंदबाजों का प्रदर्शन भी काफी अच्छा रहा था। मोहम्मद सिराज, प्रसिद्ध कृष्णा और शार्दुल ठाकुर ने रंग जमा दिया था। इसलिए गेंदबाजी विभाग में भी बदलाव की संभावना न के बराबर है। 

वेस्टइंडीज की टीम पर धीरे-धीरे टी 20 का टैग लगता जा रहा है। ये बात एक बार फिर से पुख्ता हो गई क्योंकि टीम भारत के खिलाफ पूरे 50 ओवर भी नहीं खेल पाई। ऑलराउंडर जेसन होल्डर को छोड़ दिया जाए तो किसी भी बल्लेबाज का प्रदर्शन ऐसा नहीं रहा जिसके बारे में चर्चा भी की जाए। कप्तान कीरोन पोलार्ड समेत कई बल्लेबाजों ने खराब शॉट का चयन किया। विंडीज को टी 20 के आवरण से बाहर निकलकर पहले तो पूरे ओवर खेलने का प्रयास करना होगा तभी टीम की असर छोड़ पाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *