Monday, April 15

कांग्रेस दफ्तर पहुंच जाती पुलिस तो कट जाते कई नेताओं के चालान

कांग्रेस दफ्तर पहुंच जाती पुलिस तो कट जाते कई नेताओं के चालान


न्यूज डेस्क (भोपाल)- मध्यप्रदेश में एक तरफ कोरोना संक्रमण का कहर जारी वहीं राजनीतिक पार्टियां कोरोना महामारी के बढ़ते मामलों के लिए एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगा रही हैं। वहीं राजनीतिक पार्टियां खुद सोशल डिस्टेंसिंग के लिए नियमों को दरकिनार कर रही हैं। कुछ ऐसा ही नजारा देखने को मिला मध्यप्रदेश कांग्रेस कार्यालय में जहां बसपा के कार्यकर्ता कांग्रेस की सदस्यता लेने पहुंचे।

मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग भूले नेता

कोरोना संक्रमण की रोकधाम के लिए स्वास्थ्य विभाग की जारी गाइड लाइन का इन जनप्रतिनिधियों ने जमकर मजार उड़ाया। पार्टी

कार्यालय में एक दूसरे से दूरी बनाने की बजाए ये नेता एक दूसरे के बेहद करीब नजर आए। कई नेताओं ने तो मास्क लगाने की जहमत भी नहीं उठाई। यहां तक की कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा भी मास्क को केवल गले में लटका कर रखा। शासन ने साफ नियम है की एक जगह पर ज्यादा लोग जमा नहीं होंगे, लेकिन कांग्रेस में कार्यालय में दिख रही भीड़ इस आदेश को भी मुह चिढ़ा रही हैं।

आदेश का किया उलंघन, पुलिस ने किया किनारा

कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों  के चलते भोपाल कलेक्टर तरुण पिथौड़े ने सार्वजनिक स्थानों पर थूकने और मास्क न पहनने पर जुर्माना लगाने के आदेश जारी किए हैं। लेकिन आदेशों की तामिली सिर्फ आम जनता तक सीमित नजर आ रह  हैं। पुलिस और निगम प्रशासन इन राजनेताओं पर चालानी कार्रवाई करने से गुरहेज कर रहे हैं। अगर जिला प्रशासन, निगम या पुलिस के अधिकारी कांग्रेस कार्यालय में जाते तो कितने लोगों को चालान बनाए जा सकता थे।

Edit By RD Burman

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *