Saturday, December 3

Corona : क्या फेस मास्क पहनने से ऑक्सीजन की आपूर्ति कम हो जाती है!

Corona : क्या फेस मास्क पहनने से ऑक्सीजन की आपूर्ति कम हो जाती है!


लाइफस्टाइलः अक्सर वाट्सअप पर ऐसे मैसेज आते हैं कि ज्यादा लंबे समय तक या फिर लगातर फैसमास्क पहनना खतरनाक हो सकता है। लेकिन क्या वास्तव में ऐसा है कि फैसमास्क आपकी हेल्थ के लिए हानिकरक है। जानिए, आखिर क्या है सच्चाई…
दरअसल, कोरोना संक्रमण के दौरान फैसमास्क पहनना बिलकुल उसी तरह जरूरी है, जिस तरह हम घर से निकलते समय जूते पहनते हैं। कुछ लोगों का कहना है कि फैसमास्क पहनने से ऑक्सीजन शरीर में कम पहुंचती है और अपनी खुद की कार्वनडाईऑक्साईड वापस शरीर में ग्रहण कर रहे हैं।
दरअसल, 23 अप्रैल को न्यूजर्सी में एक एसयूवी ड्राइवर ने एक पोल में गाड़ी ठोक दी और पुलिस को कहा कि फैसमास्क की वजह से यह एक्सीडेंट हुआ है, क्योंकि वह ठीक से ऑक्सीजन नहीं ले पा रहा था और एक्सीडेंट हो गया। वहीं, पुलिस ने भी इस बात को स्वीकार करते हुए उसे जाने दिया। हालांकि, बाद में पुलिस ने अपने बयान में कहा कि वह 100 प्रतिशत यह नहीं मानते कि मास्क की वजह से एक्सीडेंट हुआ होगा, लेकिन इससे इनकार भी नहीं किया जा सकता।
कार्बन डाइऑक्साइड प्राकृतिक श्वसन प्रक्रिया है, जो कुछ ऐसा है जिसे हम हर दिन सांस लेते हैं और बाहर छोड़ते हैं। अब ऐसे में यह संभव है कि मास्क की वजह से कार्बन डाइऑक्साइड हम कम छोड़ रहे हो और ऑक्सीजन भी कम ग्रहण कर रहे हो।
राष्ट्रीय स्वास्थ्य संस्थान के अनुसार, कुछ मामलों में, यह वास्तव में खतरनाक हो सकता है। कार्बन डाइऑक्साइड कम बाहर निकलने से सांस लेना जानलेवा हो सकता है। इसकी वजह से सिरदर्द, चक्कर, ध्यान केंद्रित करने में कठिनाई, और घुटन का कारण बन सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.