Thursday, February 9

Covid 19: PM मोदी ने बदली Twitter प्रोफाइल तस्वीर, अब कॉलर्स को सुनाई पड़ेगा-नमस्कार

Covid 19: PM मोदी ने बदली Twitter प्रोफाइल तस्वीर, अब कॉलर्स को सुनाई पड़ेगा-नमस्कार


नई दिल्ली
पीएम मोदी ने आज सुबह 10 बजे राष्ट्र को संबोधित किया। अपने संबोधन में उन्होंने देश में 100 करोड़ वैक्सीन का आंकड़ा पार करने पर देशवासियों को बधाई दी है। उन्होंने कहा कि '21 अक्टूबर को भारत ने 1 बिलियन ( 100 करोड़) वैक्सीन डोज का कठिन लेकिन असाधारण लक्ष्य प्राप्त किया है। इस उपलब्धि के पीछे 130 करोड़ देशवासियों की कर्तव्यशक्ति लगी है, इसलिए ये सफलता भारत की सफलता है, हर देशवासी की सफलता है। हालांकि कई लोगों ने देश की क्षमता पर संदेह किया था लेकिन हमने नौ महीनों में बड़ी उपलब्धि हासिल की है। 

इसके लिए देश के हर नागरिक को बधाई है।' अपने संबोधन से पहले पीएम मोदी ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल की डीपी यानी डिस्प्ले पिक्चर भी बदल दी थी और साथ ही अब कॉलर को कॉल कनेक्ट होने से पहले 'टीकाकरण शतक' को लेकर बधाई संदेश भी दिया जाएगा। बता दें कि अभी तक कॉलर ट्यून में लोगों को कोरोना वैक्सीन के लिए जागरूक किया जाता था लेकिन अब कालर ट्यून में लोगों से कहा जाएगा 'नमस्कार आप सबके साथ और सबके प्रयास से भारत ने 100 करोड़ टीकाकरण की उपलब्धि हासिल की है।' 

PM मोदी ने त्यौहारों को लेकर किया आगाह, कहा- 'कवच कितना ही मजबूत हो, युद्ध चलने तक हथियार नहीं डाले जाते' पीएम मोदी ने साफ तौर पर अपने संबोधन में कहा कि 'कोरोना वैक्सी्न देश के लिए बड़ी चुनौती थी लेकिन हमने इसका डटकर मुकाबला किया और 'सबको वैक्सीन-मुफ़्त वैक्सीन' का अभियान शुरू किया। गरीब-अमीर, गांव-शहर, दूर-सुदूर, देश का एक ही मंत्र रहा कि अगर बीमारी भेदभाव नहीं नहीं करती, तो वैक्सीन में भी भेदभाव नहीं किया जा सकता है इसलिए ये सुनिश्चित किया गया कि वैक्सीनेशन अभियान पर VIP कल्चर हावी न होने पाए। जब कोरोना अटैक हुआ था, तब ये आशंका व्यक्त की जा रही थी कि भारत के लिए इससे लड़ना मुश्किल होगा। 

भारत में इतना संयम, इतना अनुशासन कैसे चलेगा? हमें कहा गया कि भारत में इतना संयम, इतना अनुशासन कैसे चलेगा? लेकिन हमारे लिए लोकतंंत्र का मतलब है-'सबका साथ' और हमने ये कर दिखाया। हालांकि मोदी ने जनता को त्योहारी सीजन के लिए सचेत भी किया और कहा कि सुरक्षा कवच जितना भी मजबूत क्यों ना हो, जरा सी लापरवाही भारी पड़ सकती है। उन्होंने कहा कि कोरोना खत्म नहीं हुआ है इसलिए सबको अभी भी काफी सतर्क रहने की आवश्यकता है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.