Friday, December 9

1 साल के मासूम बच्चे की मौत के मामले में 2 पुलिस अधिकारियों सहित तीन के खिलाफ हत्या की FIR

1 साल के मासूम बच्चे की मौत के मामले में 2 पुलिस अधिकारियों सहित तीन के खिलाफ हत्या की FIR


शिवपुरी
 शिवपुरी जिले के करैरा तहसील में पुलिस की लाठी से हुई 1 साल के मासूम बच्चे की मौत के मामले में सब इंस्पेक्टर अजय मिश्रा, सब इंस्पेक्टर जगदीश रावत और मलखान नाई के खिलाफ हत्या एवं sc-st एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है।

आरोप- पुलिस के लाठीचार्ज में 1 साल के मासूम बच्चे की मौत
करैरा भितरवार मार्ग पर ग्राम रामनगर गधाई में सड़क निर्माण के दौरान दो पक्षों के बीच विवाद हो गया था जिसके कारण ठेकेदार का काम रुक गया था। ठेकेदार ने एसडीएम से शिकायत की थी। एसडीएम ने नरवर तहसीलदार रुचि अग्रवाल को दोनों बच्चों से बातचीत करके सड़क निर्माण में आ रही बाधा को दूर करने के लिए भेजा था। सुरक्षा के लिए उनके साथ पुलिस टीम भी गई थी। यहीं पर विवाद बढ़ गया और 1 साल के मासूम बच्चे की मौत हो गई। बच्चे के पेरेंट्स का कहना है कि पुलिस की लाठी के कारण बच्चे की मौत हुई है।

FIR होने तक करैरा भितरवार रोड जाम रहा
बच्चे की मौत के बाद विवाद बढ़ गया। पीड़ित पक्ष की ओर से चक्का जाम कर दिया गया। पीड़ितों को समझाने के लिए शिवपुरी कलेक्टर अक्षय कुमार सिंह और एसपी राजेश सिंह चंदेल खुद गए थे, परंतु प्रदर्शनकारियों ने उनकी बात नहीं मानी। देर रात तक चक्काजाम बना रहा। अंततः पुलिस ने सब इंस्पेक्टर अजय मिश्रा, सब इंस्पेक्टर जगदीश रावत और मलखान नाई के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया, तब कहीं जाकर ट्रैफिक चालू हुआ।

तहसीलदार रुचि अग्रवाल पर आरोप
करैरा थाने में अशोक जाटव द्वारा दिए गए आवेदन के अनुसार मंगलवार करीब 12 बजे दोपहर को तहसीलदार नरवर रुचि अग्रवाल द्वारा हमको बुलाया गया चूकि मेरे खेत में अवैध पुलिया निर्माण का कार्य किया जा रहा था। मैने उसका पक्ष महोदय के सामने रखने का प्रयास किया लेकिन तहसीलदार महोदय ने करीब 15 पुलिस बल को बुलाया और हमारे परिवार, औरतों के साथ मारपीट की गई जिसमे एसआई अजय मिश्रा ने मेरी पत्नि वंदना को लाठी मार दी। मेरी पत्नि की गोद में मेरा 1 साल का बेटा शिवा भी था लाठी उसके सिर में लगी, जिससे उसकी मौत हो गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published.