Thursday, June 13

अमिताभ बच्चन को आयुष्मान ने बताया अपना गुरू, बोले-‘आपका हाथ थाम कर यहां तक पहुंचा हूं’

अमिताभ बच्चन को आयुष्मान ने बताया अपना गुरू, बोले-‘आपका हाथ थाम कर यहां तक पहुंचा हूं’


मनोरंजन डेस्कः आयुष्मान खुराना और अमिताभ बच्चन की फिल्म फिल्म ‘गुलाबो सिताबो’ 12 जून को रिलीज हो चुकी है। अमेजन प्राइम पर रिलीज हुई इस फिल्म को दर्शकों द्वारा पसंद भी किया जा रहा है। फिल्म में लखनऊ की एक तंग गली की कहानी दिखाई गई है।

 

वहीं, पहली बार अमिताभ बच्चन के साथ स्क्रीन शेयर कर रहे हैं आयुष्मान खुराना ने बातचीत में कई बाते शेयर की हैं। उन्होंने लिखा है कि “जब भी हमारे देश में कोई नौजवान अभिनय के क्षेत्र में कदम रखना चाहता है तो उसका ध्येय होता है अमिताभ बच्चन। मेरी आख़िरी फ़िल्म में एक डायलॉग था कि बच्चन बनते नहीं है, बच्चन तो बस होते हैं। जब मैंने बचपन में चंडीगढ़ के नीलम सिनेमा में अमित जी फिल्म “हम” देखी थी और बड़े से बच्चन को बड़े से पर्दे पर देखा था तो शरीर में ऐसी ऊर्जा उत्पन्न हुई, जिसने मुझे अभिनेता बनने पर मजबूर कर दिया।

मेरा पहला टीवी शूट मुकेश मिल्ज़ में हुआ था और यही वो जगह थी जहां जुम्मा-चुम्मा दे-दे शूट हुआ था। उस दिन मुझे ‘मैं आ गया हूं’ वाली फीलिंग आ गई थी। अगर तब यह हाल था तो आज आप सोच सकते होंगे मैं किस अनुभूति से गुज़र रहा होऊंगा। गुलाबो-सिताबो में मेरे सामने बतौर ‘सह’ कलाकार यह हस्ती खड़ी थी और किरदारों की प्रवृति ऐसी थी की हमें एक-दूसरे को बहुत ‘सहना’ पड़ा। वैसे असल में मेरी क्या मजाल की मैं उनके सामने कुछ बोल पाऊं। इस विसमयकारी अनुभव के लिए मैं शूजित दा का धन्यवाद करना चाहूंगा कि उन्होंने मुझे अमिताभ बच्चन जैसे महानायक के साथ एक फ़्रेम में दिखाया है। आप मेरे गुरू हैं, आपका हाथ थाम कर यहां तक पहुंचा हूं। “सौ जन्म क़ुर्बान यह जन्म पाने के लिए, ज़िंदगी ने दिए मौक़े हज़ार हुनर दिखाने के लिए।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *