Monday, July 22

मैं महाराजा नहीं हूं ,मैं मामा नहीं हूं , मैंने कभी चाय नहीं बेची , मैं तो बस कमलनाथ हूं

मैं महाराजा नहीं हूं ,मैं मामा नहीं हूं , मैंने कभी चाय नहीं बेची , मैं तो बस कमलनाथ हूं


भोपाल. लंबे समय बाद राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने सिर्फ इतना कहा कि टाइगर अभी जिंदा है और  मध्यप्रदेश की राजनीति में जैसे भूचाल आ गया हो। उनके इस बयान के बाद दिग्विजय सिंह और कमलनाथ ने अपना जवाब ट्वीट किया है। कमलनाथ ने शुक्रवार को ट्वीट करते लिखा कि ” मैं महाराजा नहीं हूं ,मैं मामा नहीं हूं , मैंने कभी चाय नहीं बेची , मैं तो बस कमलनाथ हूं। कई लोग कहते हैं कि मैं टाइगर हूं।
मैं तो ना टाइगर हूं , ना पेपर टाइगर हूं , अब यह तो प्रदेश की जनता तय करेगी , कौन क्या है” ?

इससे पहले सिंधिया के टाइगर अभी जिंदा है के जवाब में कांग्रेस के राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह ने एक के बाद एक चार ट्वीट करते हुए लिखा कि “शेर का सही चरित्र आप जानते हैं? एक जंगल में एक ही शेर रहता है”। दिग्विजय ने ट्वीट करते हुए लिखा कि “भाजपा का भविष्य”…, “ना जाने इस मंत्रिमंडल गठन ने कितने भाजपा के “टाइगर” ज़िंदा कर दिए। देखते जाइए। समय बड़ा बलवान है”।

उन्होंने लिखा कि “जब शिकार प्रतिबंधित नहीं था, तब मैं और श्रीमंत माधवराव सिंधिया जी शेर का शिकार किया करते थे। इंदिरा जी के वाइल्डलाइफ़ कंज़र्वेशन एक्ट लाने के बाद से मैं अब सिर्फ शेर को कैमरे में उतारता हूं”।

दरअसल, गुरुवार 2 जुलाई को मध्यप्रदेश में मंत्रिमंडल की शपथ के बाद सिंधिया ने कहा था कि ‘अब मैं देख रहा हूं कि पिछले दो महीने से ये लोग (कांग्रेस) चरित्र को धूमिल करने की कोशिश कर रहे हैं। मैं इन्हें कहना चाहता हूं कि टाइगर अभी जिंदा है।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *