Tuesday, January 31

राज्य स्थापना दिवस पर आयोजित कार्यक्रमों के लिये मुख्यअतिथियों के नाम घोषित

राज्य स्थापना दिवस पर आयोजित कार्यक्रमों के लिये मुख्यअतिथियों के नाम घोषित


रायपुर
1 नवंबर को छत्तीसगढ़ अपना 22 वां स्थापना दिवस का जलसा मनाएगा जिसकी शुरूआत राज्य में 28 अक्टूबर से प्रारंभ होने वाले राष्ट्रीय आदिवासी महोत्सव से होगी। राज्य स्थापना पर आयोजित होने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रमों के लिये मुख्य अतिथियों नामों की घोषणा कर दी गई है और इस सामान्य प्रशासन विभाग ने अतिथियों के नामों की सूची भी जारी कर दी।

रायपुर के साइंस कॉलेज मैदान में 28 अक्टूबर से शुरू हो रहे राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव के दौरान लोगों को जनजातीय परंपाओं के परिधानों, गहनों, शिल्पों, डिजाइनों और खान-पान के बारे में भी विस्तार से जनकारियां प्राप्त करने का अवसर मिलेगा। इस महोत्सव में ट्राइबल डांस एरिया और स्पीकर लाउंज के साथ-साथ लाइव शोकेस एरिया, ट्राइबल इंस्पायर्ड एग्जीबिट, शिल्प-ग्राम और फूड-एरिया का भी निर्माण किया जाएगा। इस महोत्सव के साथ ही एक प्रकार से राज्य स्थापना दिवस का जलसा भी शुरू हो जायेगा।

विभिन्न जिलों में आयोजित होने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रमों के लिये घोषित मुख्य अतिथियों के नाम इस प्रकार से हैं। संसदीय सचिव विनोद सेवनलाल चंद्राकर महासमुंद, संसदीय सचिव गुरूदयाल सिंह बंजारे धमतरी, संसदीय सचिव सुश्री शकुन्तला साहू बलौदाबाजार/भाटापारा, विधायक अमितेष शुक्ला गरियाबंद, विधायक कुलदीप जुनेजा दुर्ग, विधाायक अरूण वोरा राजनांदगांव, विधायक श्रीमती ममता चंद्रकार कबीरधाम, संसदीय सचिव डॉ रश्मि आशिष सिंह बालोद, संसदीय सचिव विकास उपाध्याय बेमेतरा, संसदीय सचिव इंद्रशाह मंडावी बिलासपुर, संसदीय सचिव द्वारकाधीश यादव कोरबा, सरगुजा क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण उपाध्यक्ष बृहस्पत सिंह रायगढ़, संसदीय सचिव कुंवर सिंह निषाद मुंगेली, संसदीय सचिव चंद्रदेव प्रसाद राय जांजगीर-चांपा, संसदीय सचिव पारासनाथ राजवाड़े गौरेला-पेन्ड्रा-मरवाही, विधायक विनय जायसवाल सरगुजा, सरगुजा क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण उपाध्यक्ष गुलाब कमरो कोरिया, संसदीय सचिव चिंतामणी महाराज जशपुर, विधायक लालजीत सिंह राठिया सूरजपुर।

Leave a Reply

Your email address will not be published.