Tuesday, January 31

अघनिया बाई के मकान में बारिश से अब पानी नहीं टपकता

अघनिया बाई के मकान में बारिश से अब पानी नहीं टपकता


बेमेतरा

हर व्यक्ति का एक सपना होता है कि छांव के लिए उसका एक खुद का घर हो। इसी सपने को सरकार द्वारा साकार किया जा रहा है। छत्तीसगढ़ के कृषि प्रधान जिला बेमेतरा अंतर्गत बेमेतरा विकासखण्ड में ग्राम पंचायत जेवरा स्थित है। यहां की निवासी श्रीमती अघनिया बाई जो कि एक विधवा महिला उम्र 60 साल है, जिसके पास कमाई का कोई साधन भी नहीं है। ग्राम पंचायत द्वारा विधवा पेंशन योजना के तहत पेंशन राशि एवं राशन कार्ड से प्राप्त होने वाले राशन से अपने मिट्टी से निर्मित जीर्ण-शीर्ण आवास में जैसे-तैसे अपना गुजारा करती थी। वित्तीय वर्ष 2019-20 में प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) अंतर्गत इनके नाम से आवास स्वीकृत हुआ।
आज श्रीमती अघनिया बाई का मकान बनकर तैयार हो गया है और वे अब अपने पक्का मकान को देखकर बहुत खुश हो जाती है, जिससे उनका आत्मविश्वास बढ़ा है और स्वयं को गौरवान्वित महसूस करती है। ऐसे ही शासन की अन्य योजनाओं का लाभ लेते हुए खुशी-खुशी अपना जीवन यापन कर रही है। अघनिया बाई ने केन्द्र एवं राज्य शासन कर इस महती योजना के बारे में बताते हुए कहा कि हम जैसे गरीब परिवार के लिए यह योजना काफी सहारा बनकर आयी है, जिसके कारण हमें पक्का मकान नसीब हुआ है। उन्होंने जिला प्रशासन को प्रधानमंत्री आवास योजना के अन्तर्गत पक्का आवास दिये जाने पर आभार व्यक्त किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.