Wednesday, July 24

गेहूं की बंपर पैदावार में कमलनाथ सरकार का हाथ, कांग्रेस के निशाने पर बीजेपी सरकार

गेहूं की बंपर पैदावार में कमलनाथ सरकार का हाथ, कांग्रेस के निशाने पर बीजेपी सरकार


भोपाल(न्यूज डेस्क) : मध्य प्रदेश में इस साल गेहूं की बंपर पैदावार हुई है। जिसके चलते प्रदेश सरकार दावा कर रही है कि 1.27 करोड़ टन गेहूं खरीदी कर मध्यप्रदेश देश में प्रथम स्थान पर पहुंच गया है। इसका सेहरा प्रदेश की बीजेपी सरकार बने सिर बांध रही है। वहीं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बंपर पैदावार के लिए अपनी पीठ थपथपा रहे हैं। जिसको लेकर कांग्रेस के कालापीपल विधायक कुणाल चौधरी ने शिवराज सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि प्रदेश में गेहूं की बंपर पैदावार का कमलनाथ सरकार की नीतियों के कारण हुई है। कमलनाथ सरकार के दौरान प्रदेश में किसानों को समय पर पर्याप्त मात्रा में बिजली, पानी और खाद्य मिला। उसके परिमाण से प्रदेश में अच्छी हुई और देश में प्रथम स्थान प्राप्त किया।

कांग्रेस के सरकार पर आरोप

कांग्रेस विधायक कुणाल चौधरी ने शिवराज सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि मध्यप्रदेश में गेहूं की बंपर पैदा वार हुई। लेकिन शिवराज सरकार किसानों का गेहूं सही समय पर नहीं खरीद पाई। किसानो को दस-दस दिनों तक लाईनों में खड़ा रहना पड़ा। इसके बावजूद भी प्रदेश में कई किसान अपनी फसल नहीं बेच पाए।

पूर्व मंत्री पीसी शर्मा का बयान

वहीं किसान कर्जमाफी को लेकर पूर्व मंत्री पीसी शर्मा ने बीजेपी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि जब प्रदेश में कमलनाथ सरकार थी उस दौरान राज्य के 55 लाख किसानों का कर्ज माफ किया है। जब किसान कर्ज मुक्त हुआ तो उसने अच्छा खाद्य और बीज खरीदा। जिसका परिणाण है कि प्रदेश में आज गेहूं की फसल की बंफर पैदावार हुई है। मौजूदा बीजेपी के शासनकाल में खरीदी केन्द्रों पर किसान केवल परेशान होता रहा। लंबी-लंबी लाइनों में 10-10 दिनों तक खड़ा रहा, और कई किसान अपनी फसल भी नहीं बेच सके। इसको लेकर कांग्रेस आगामी दिनों में बीजेपी सरकार के खिलाफ आंदोलन करेंगी।

Edit by: Amit Tiwari

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *