Saturday, December 3

सागर 181, छतरपुर 20, दमोह 24, टीकमगढ़ 9, दतिया 8, पन्ना 6 मामले आए सामने

सागर 181, छतरपुर 20, दमोह 24, टीकमगढ़ 9, दतिया 8, पन्ना 6 मामले आए सामने


लंबे समय तक कोरोना वायरस से दूर रहे बुंदेलखंड में अब कोरोना का संक्रमण अपने पैर पसारने लगा हैं। लॉकडाउन के चौथे चरण तक सागर, 5 छतरपुर और टीकमगढ़ में केबल एक-एक मरीज था। लेकिन अब बुंदेलखंड के हालात बदल  चुकें हैं। 6 जिलों में मरीजों का आंकड़ा 181 पर पहुंच गया हैं। मप्र का एक मात्र जिला निवाड़ी कोरोना के जाल में फंसने से बपचा हुआ हैं। बुंदेलखंड में मरीजों के मिलने और संक्रमण की शुरुआत प्रवासी मजदूरों के आने से हुई। ये प्रवासी मजदूर महाराष्ट्र, दिल्ली और गुजरात से लौटकर अपने-अपने जिलों में पहुंचे।

प्रवासी मजदूरों के जांच का कोई इंतेजाम पहले नहीं किया गया था। बिना किसी जांच के लिए मजदूर एक एक राज्य पार कर बुंदेलखंड में पहुंचे थे। मजदूरों के अपने जिले के गांवों में क्वारेंटाइन किया गया। इसके बाद लिए गए सैंपल में संक्रमित होने की पुष्टि हुई। सफर के दौरान जांच में खुलासा हुआ हैं कि जो मजदूर किसी साधन से गांव में पहुंचे हैं, उनमें संक्रमण मिला हैं, लेकिन जो मजदूर पैदल अपने गांव पहुंचे उनमें संक्रमण नहीं पाया गया हैं।

बुंदेलखंड के जिलों में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा

सागर में 181, छतरपुर में 20, दमोह में 24, टीकमगढ़ में 9, दतिया में 8, पन्ना में 6 मामले सामने आए हैं। सभी जिलों में पिछले आठ दिन से नए मामले सामने आने की ऱफ्तार बढ़ी है। सागर मध्यप्रदेश का नया हॉट स्पॉट बनकर सामने आया हैं। सागर में कम्यूनिटी स्प्रेड जैसे हालत बन गए हैं। जो मरीज मिल रहे हैं, उनके परिवार के अन्य लोग भी संक्रमित हैं। फिलहाल प्रशासन कम्यूनिटी स्प्रेड की आशंका से इनकार कर रहा है।

कोरोना संक्रमण से सागर में  9वीं मौत

रविवार को सागर में कोरोना संक्रमण के 8 नए केस मिले हैं।  शहर का सदर इलाका सबसे बड़ा हॉटस्पॉट बनकर सामने आया हैं। यहां कोरोना मरीजों की संख्या 95 पर पहुंच गई हैं। वहीं  19 मरीजों को डिस्चार्ज भी किया गया। अबतक 88 मरीज ठीक होकर अपने घर जा चुके हैं। अबतक कोरोना से 9 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। जिन लोगों की मौत हुई उनकी उम्र 50 साल से ज्यादा थी और वो किसी न किसी गंभीर बीमारी के पीड़ित थे।

EDIT BY RD BURMAN

Leave a Reply

Your email address will not be published.