Friday, April 12

कोरोना ने ठप्प किया पूजन सामग्री और फूलों का 100 करोड़ का कारोबार 

कोरोना ने ठप्प किया पूजन सामग्री और फूलों का 100 करोड़ का कारोबार 


धर्म-दर्शन डेस्कः 2 महीने से चल रहे लॉकडाउन के कारण मध्यप्रदेश में फूलों और पूजन सामग्री से जोड़े कारोबारियों को बहुत बड़ा नुकसान उठाना पड़ रहा है। इसमें किसान भी शामिल है, जिन्होंने अपनी खड़ी फूलों की फसल में खुद ही ट्रैक्टर चलाकर उसे नष्ट कर दिया।
पहले मार्च अंत और अप्रैल की शुरुआत में नवरात्रि में फूलों का 20 करोड़ से ज्यादा का बिजनेस बर्बाद हो गया। वहीं, अप्रैल और मई में शादी का सीजन खाली जाने से करोड़ों के फूल खेतों में ही सड़ गए। कुछ किसानों ने गुलाब से गुलकंद बनाया तो कुछ ने खड़ी फसल पर खुद ही बर्बाद कर दिया। कारोबारियों के मुताबिक, प्रदेश के सभी मंदिर बंद होने से भी फूलों और पूजन की सामग्री के कारोबार पर विपरीत असर पड़ा है और मध्यप्रदेश में लगभग 100 करोड़ का बिजनेस बर्बाद हो गया है।


लॉकडाउन के चलते फूलों की मंडियां बीरान पड़ी हैं। भोपाल के फूल व्यापारी राकेश तिवारी ने बताया कि गुलाब, मोगरा, नौरंगा और कई देशी-विदेशी फूलों से महकने वाली मंडी बंद पड़ी हैं। आम दिनों में यहां फूलों का कारोबार रोजाना करीब 10 से 12 लाख रुपए का होता था। वहीं, शादियों में यह कारोबार रोजाना करीब 20 से 25 लाख रुपए तक पहुंच जाता था।  तिवारी के मुताबिक, मंडी में रोजाना गुलाब करीब 5 से 6 टन आता था और गेंदा 10 से 12 टन, नौरंगा करीब 15 टन फूल बिकता था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *